मुरादाबाद: 10वीं के छात्र ने शिक्षिका को भेजे भद्दे संदेश-पिता ने दी धमकी, दोनों के खिलाफ केस दर्ज

मुरादाबाद (Moradabad) में सीबीएसई एफिलिएटेड स्कूल की सामाजिक विज्ञान विषय की 30 वर्षीया शिक्षिका ने आरोप लगाया कि जब वह गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन कक्षाएं (Online classes) ले रही थीं तब उन्हें दो अनुचित संदेश भेजे गए थे.
Student objectionable message to teacher, मुरादाबाद: 10वीं के छात्र ने शिक्षिका को भेजे भद्दे संदेश-पिता ने दी धमकी, दोनों के खिलाफ केस दर्ज

उत्तर प्रदेश के एक निजी स्कूल के 10वीं कक्षा के एक छात्र के खिलाफ ऑनलाइन कक्षा (Online classes) के दौरान अपनी शिक्षिका को ‘अश्लील संदेश’ भेजने का मामला दर्ज किया गया है. छात्र के पिता के खिलाफ भी फोन पर ‘शिक्षिका को धमकाने’ के लिए केस दर्ज किया गया है. पुलिस ने शनिवार को यह कार्रवाई की. मुरादाबाद (Moradabad) में सीबीएसई एफिलिएटेड स्कूल की सामाजिक विज्ञान विषय की 30 वर्षीय शिक्षिका ने आरोप लगाया कि जब वह गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन कक्षाएं ले रही थीं तब उन्हें दो अनुचित संदेश भेजे गए थे. उन्होंने कहा कि संदेश कई अन्य छात्रों ने भी पढ़े थे.

शिक्षिका ने अपनी शिकायत में कहा, “मैंने छात्र के परिवार से संपर्क किया. हालांकि, उसके पिता ने अपने बच्चे को डांटने के बजाय, मेरी बात सुनने से इनकार कर दिया. उन्होंने मुझसे दुर्व्यवहार भी किया और धमकी दी.” बाद में पुलिस ने पिता-पुत्र के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की. सर्कल अधिकारी कुलदीप सिंह ने कहा कि दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. एक विस्तृत जांच के लिए साइबर सेल (Cyber cell) को रिपोर्ट भेजी गई है.

इन धाराओं में दर्ज किया गया बाप-बेटे के खिलाफ मामला

सिविल लाइंस एसएचओ नवल मारवाह ने कहा, “छात्र के खिलाफ आईपीसी की धारा 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान) और 67 ए (यौन शोषण से संबंधित सामग्री के प्रकाशन या ट्रांसमिटिंग के लिए सजा आदि) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. जबकि उसके पिता पर आईपीसी की धारा 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) के तहत मामला दर्ज किया गया है.” मारवाह ने कहा कि छात्र के परिवार के अन्य विवरण अभी भी एकत्र किए जा रहे हैं.

सूत्रों ने कहा कि स्कूल मामले से अवगत है, लेकिन अभी तक छात्र के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है. स्कूल के अधिकारी किसी भी आधिकारिक टिप्पणी के लिए अनुपलब्ध रहे. बता दें कि कोरोना महामारी को देखते हुए ऑनलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही हैं.

Related Posts