‘हम बिहार को लालटेन के युग से निकालकर LED की दूधिया रोशनी तक लाए हैं’, PM मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार के सासाराम में चुनावी सभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि बिहार ने हमेशा देश को दिशा देना वाला नेतृत्व दिया है.

सासाराम: लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा. सभी दल के नेता चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. इस चरण में बिहार की आठ सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इस दौरान मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने बिहार के सासाराम में चुनावी सभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि ‘महामिलावट वाले किसानों की बात करते हैं लेकिन खेत में पानी नहीं पहुंचा पाते. दुर्गावती जलाशय परियोजना के साथ इन्होंने क्या किया, ये आप भलीभांति जानते हैं. जहानाबाद के लोगों को तो उत्तर कोयल बांध परियोजना पूरा होने के लिए आधी सदी का इंतजार करना पड़ा.’

उन्होंने कहा, ‘जब हमारे सपूत सर्जिकल स्ट्राइक करते हैं, एयर स्ट्राइक करते हैं, तो ये आतंकियों की लाशें मांगते हैं. इसलिए गुस्से से भरा हुआ देश कह रहा है- अब बहुत हुआ. ये देश तोड़ने की बात करने वालों के साथ खड़े रहते हैं. इसलिए देश कह रहा है- अब बहुत हुआ.’

PM मोदी ने बिहार में गठबंधन को लेकर निशाना साधा उन्होंने कहा, ‘जो लोग केंद्र में मजबूर सरकार बनाने के सपने देख रहे थे, उनके सपनों को देश के लोगों ने चूर-चूर कर दिया है. देश में महामिलावट वालों से इतना गुस्सा क्यों है, इसका जवाब है वंशवादियों और भ्रष्टाचारियों का अहंकार. ये महामिलावटी लोग सिर्फ और सिर्फ समाज के विभाजन के बल पर वोट बटोरने की राजनीति करते हैं. यही कारण है कि आजादी के बाद इतने दशकों तक बिहार सहित इस समूचे पूर्वी भारत को विकास की रोशनी से दूर रखा गया.’

उद्योगों को नया जीवन, रोजगार के अवसर पैदा होंगे-

PM मोदी ने कहा, ‘देश में ऐसी करीब 100 सिंचाई परियोजनाएं दशकों से लटकी थीं, जिनको पूरा करने का प्रयास हमने बीते 5 वर्षों में किया है. महामिलावट की और एनडीए की राजनीति का अंतर स्पष्ट है. हम बिहार को लालटेन के युग से निकालकर LED की दूधिया रोशनी तक लाए हैं. ये बिहार को लालटेन के युग में ले जाने की कोशिश कर रहे हैं. रोहतास और कैमूर को भी ऊर्जा गंगा परियोजना का लाभ मिलना तय हुआ है. हल्दिया से जो गैस पाइपलाइन पहुंचाई जा रही है, उससे यहां का जीवन बदलने वाला है. यह क्षेत्र के उद्योगों को नया जीवन देगी और रोजगार के अवसर पैदा करेगी.’

बिहार ने दिशा देना वाला नेतृत्व दिया है-

PM मोदी ने कहा ‘मैं गुजरात में सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहा. आपने मुझे आशीर्वाद देकर पांच साल तक देश का प्रधान सेवक बनाया. इतने साल तक सत्ता में रहने के बाद भी मेरी संपत्ति क्या है, आप दोनों की तुलना करके देखिएगा. आप सभी का आशीर्वाद और प्यार ही मेरी पूंजी है. आपका प्यार ही मुझे तपाता भी है और दौड़ाता भी है. सासाराम और बिहार ने हमेशा देश को दिशा देना वाला नेतृत्व दिया है.’

अपने स्वार्थ के लिए फायदा उठाया-

उन्होंने कहा कि, ‘दल अलग रहें, लेकिन लोकतंत्र की आत्मा को बचाने के लिए सभी एकजुट रहें. लेकिन दुर्भाग्य देखिए, इसी बिहार का कुछ लोगों ने अपने भ्रष्टाचार के लिए, अपने स्वार्थ के लिए जमकर फायदा उठाया. महामिलावट के दम पर ये लोग जो मजबूर सरकार बनाने के सपने देख रहे थे उस सपने को देश के लोगों ने चूर-चूर कर दिया है. देश इन महामिलावट वालों से इतना गुस्सा क्यों है, इसका जवाब है वंशवादियों और भ्रष्टाचारियों का अहंकार.’

ये भी पढ़ें- कोलकाता में शाह की रैली के पहले मचा बवाल, स्थानीय प्रशासन ने हटाए पोस्टर और होर्डिंग