इटावा: गोवंश के 26 शव मिलने से हड़कंप, बंधे हुए थे सबके मुंह

गोवंश के शवों की सूचना मिलने के बाद आनन-फानन पहुंची पुलिस और अधिकारियों ने बिना पोस्टमार्टम दफनाने की कोशिश की.

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में जसवंतनगर थानाक्षेत्र के कचौरा बाईपास के पास 26 गौवंश के शव मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया. प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर शवों को दफनाकर मामले को दबाने का प्रयास किया. लेकिन मीडिया के दखल के बाद शवों का पोस्टमार्टम करके दफनाया गया.

सीओ जसवंतनगर उत्तम सिंह ने मीडिया को बताया कि कुल 26 शव मिले हैं जिनको बाहर से लाकर यहां डाला गया है. इनकी मौत तीन दिन पहले हुई है. पशु चिकित्सा अधिकारी अनिल केसल ने बताया कि सभी शवों के मुंह बंधे हुए थे और दम घुटने से इनकी मौत हुई है. सभी शव लगभग 72 घंटे पुराने हैं.

पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है लेकिन इलाके के लोगों में काफी गुस्सा है. लोगों का कहना है कि पुलिस अगर गश्त कर रही होती तो यहां इतनी बड़ी संख्या में गोवंश के शव नहीं मिलते. आनन-फानन मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस ने सिर्फ एक शव का पोस्टमार्टम कराया, बाकी को जेसीबी से गड्ढे खुदवाकर दफना दिया गया इसलिए पुलिस भी सवालों के घेरे में फंसती नजर आ रही है.

ये भी पढ़ें:

PMC बैंक के MD ने धर्म बदलकर सेक्रेट्री से की थी दूसरी शादी, उसके नाम रजिस्‍टर्ड मिले 9 फ्लैट्स