उत्तर प्रदेश: कोरोना सुरक्षा किट के लिए हड़ताल कर रहे 26 हेल्थ वर्कर बर्खास्त

डायरेक्टर अज्ञात गुप्ता ने कहा कि," हेल्थ वर्कर देश में कोरोना (corona) के कठिन हालात के बावजूद मनमाने तरीके से हड़ताल पर चले गए हैं, जिस कारण राजकीय मेडिकल कॉलेज बांदा की मेडिकल सेवाएं प्रभावित हो रही हैं. इसलिए एग्रीमेंट के आधार पर इनकी सर्विस समाप्त की जाती हैं."

उत्तर प्रदेश के बांदा के राजकीय मेडिकल कॉलेज में आउटसोर्सिग के जरिए रखे गए 26 हेल्थ वर्कर को शुक्रवार को बर्खास्त कर दिया गया है. ये सभी कर्मचारी कोरोनावायरस (coronavirus) सुरक्षा किट की मांग को लेकर पिछले दो दिनों से हड़ताल पर थे.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा, उत्तर प्रदेश के डायरेक्टर अज्ञात गुप्ता ने बर्खास्त किए गए 26 आउटसोर्सिग हेल्थ वर्कर को संबोधित करते हुए राजकीय मेडिकल कॉलेज बांदा के प्रिन्सिपल के नाम शुक्रवार को लिखे लेटर में कहा, “आप सभी लोग देश के कठिन हालात के बावजूद मनमाने तरीके से हड़ताल पर चले गए हैं, जबकि इस समय प्रदेश में एस्मा (ESMA) कानून लागू है. आपके इस हरकत से राजकीय मेडिकल कॉलेज बांदा की मेडिकल सेवाएं प्रभावित हो रही हैं. इसलिए एग्रीमेंट के आधार पर आप सभी की सर्विस तत्काल प्रभाव से समाप्त की जाती हैं.”

बर्खास्त हेल्थ वर्कर प्रीति दिवेदी ने आरोप लगाया कि, “मेडिकल कॉलेज के प्रिन्सिपल ने कोरोना आइसोलेशन (isolation) वार्ड में बिना सुरक्षा किट उपलब्ध कराए ही सभी आउटसोर्सिग कर्मियों की ड्यूटी लगाई थी. सुरक्षा किट की मांग को लेकर सभी कर्मी दो दिन से हड़ताल पर थे.” उन्होंने कहा, “प्रिंसिपल ने जान बूझ कर हमें फंसाया है, जिसके कारण डिपार्टमेंट ने हमें काम से निकाला है, जिसे कोर्ट में चुनौती दी जाएगी.”

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

-IANS

Related Posts