निजी तस्वीरों के साथ ही बेच दिया मोबाइल, वायरल होने पर मेरठ में हुआ मर्डर-सुसाइड-एनकाउंटर

शुभम के फोन में उसकी एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें सेव थीं. खरीदने वाले शख्स ने इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था.

नई दिल्ली: बिना चेक किए अपना मोबाइल फोन बेचने की कितनी बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है, यह मेरठ की इस घटना से पता चलता है. मेरठ के शुभम कुमार ने बिना चेक किए ही कुछ दिनों पहले अपना फोन अनुज प्रजापति नाम के शख्स को बेच दिया था. फोन में शुभम की एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें सेव थीं. अनुज ने इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया.

कंकड़खेड़ा पुलिस स्टेशन के एसएचओ आनंद प्रकाश के मुताबिक, महिला ने जब ये तस्वीरें देखीं तो उसे काफी गुस्सा आया और उसने शुभम से बात की. इससे क्रोधित शुभम ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर अनुज की हत्या कर दी.

बेटे के साथ गंगानहर कैनाल में कूदी महिला
दूसरी तरफ, 35 साल की महिला मुजफ्फरनगर के गंगानहर कैनाल में शनिवार को अपने 5 साल के बेटे के साथ कूद गई. गोताखोरों ने बच्चे को तो बचा लिया लेकिन महिला की मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि महिला ने मरने से पहले अपने पति को एक फोन कॉल भी किया था.

सीसीटीवी फुटेज और मौके से बरामद मोबाइल की मदद से पुलिस ने आरोपियों की पहचान की है. पुलिस का कहना है कि शायद फोटोज के वायरल होने के अलावा अनुज की हत्या के मामले में नाम आने से परेशान होकर महिला ने आत्महत्या करने का फैसला किया.

सहारनपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार
वहीं, शुभम और उसके एक साथी को सहारनपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है. एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि 5 संदिग्ध लोग 2 मोटरसाइकिलों पर सवार होकर जा रहे थे. इस दौरान जब पुलिस ने सिक्यॉरिटी चेक पर रुकने के लिए कहा तो उन्होंने पुलिस पर ओपन फायर शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने दो संदिग्धों के पैर में गोली मारी और फिर हिरासत में लिया.

ये भी पढ़ें-

चुनावों के बाद भी नहीं थम रही बंगाल में हिंसा, एक और BJP कार्यकर्ता की हत्या

जम्मू-राजौरी हाईवे पर मिला IED, डिफ्यूज़ करने में जुटा बम निरोधक दस्ता

काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचे PM मोदी, कर रहे पूजा-पाठ