PM मोदी के अल्टीमेटम के बाद, अब जून से दिल्ली- मेरठ का सफर 45 मिनट में होगा तय

एनएचएआई के अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर हर दो किलोमीटर पर सीसीटीवी लगाया जाएगा. वहीं, टोल प्लाजा पर कैमरों की संख्या ज्यादा होगी. पूरे दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर 100 कैमरे लगाए जाएगे. इन सीसीटीवी कैमरों से गाड़ी की नंबर प्लेट भी दिखाई देगा.

पीएम मोदी के एनएचएआई को अल्टीमेटम देने के बाद खबर है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे का काम हर हाल में 31 मई तक पूरा कर लिया जाएगा. एनएचएआई के अफसरों का दावा है कि वे हर हाल में इसे तय समय सीमा में ही पूरा कर देंगे. कहा जा रहा है कि अब मेरठ से दिल्ली जाने में बस 45 मिनट ही लगेगा. बता दें कि इस एक्सप्रेस वे के चार भाग हैं, जिसमें से दो को पूरा किया जा चुका है, जबकि दो अभी तक अधूरे हैं.

एनएचएआई के अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर हर दो किलोमीटर पर सीसीटीवी लगाया जाएगा. वहीं, टोल प्लाजा पर कैमरों की संख्या ज्यादा होगी. पूरे दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर 100 कैमरे लगाए जाएगे. इन सीसीटीवी कैमरों से गाड़ी की नंबर प्लेट भी दिखाई देगा.

बता दें कि 7855 करोड़ लागत की इस प्रॉजेक्ट का साल 2014 में पीएम मोदी ने शिलान्यास किया था. इस एक्सप्रेस वे पर 1.25 रुपए प्रति किलोमीटर टोल टैक्स देना होगा.इस एक्सप्रेस वे पर दिल्ली के सराय काले खां से एंट्री के बाद से 8 जगहों पर एग्जिट पॉइंट बनाया जाएगा.

ये भी पढ़ें – 

आजमगढ़ में लगे अखिलेश लापता के पोस्टर, कांग्रेस ने ली जिम्मेदारी

यूपी : जाति के बाहर शादी करने पर मिला गोबर खाने का फरमान

रणजीत बच्चन हत्याकांड : मुख्य आरोपी पुलिस मुठभेड़ में घायल, पैर में लगी गोली

Related Posts