इलाज के दौरान मुंह में हुआ ब्लास्ट, चली गई महिला की जान

वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी अंजर जैदी ने बताया कि इस तरह की घटना उनके मेडिकल कार्यकाल में पहली बार घटी है.

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले के जवाहरलाल मेडिकल कॉलेज में एक महिला की मौत उसके मुंह में विस्फोट की वजह से हो गई.

थाना हरदुआगंज के सब इंस्पेक्टर अरविंद चौधरी ने बताया, “अलीगढ़ के कस्बा जलाली की रहने वाली शीला देवी बुधवार सुबह अपनी ननद के घर आलमपुर सुबकरा गांव जाने के लिए निकली थीं. गांव पहुंचकर उन्होंने अपने ननदोई को आवाज लगाई और उसके ठीक बाद अचेत होकर जमीन पर गिर गईं”.

उन्होंने कहा, “सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को जवाहरलाल मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी वॉर्ड में भर्ती कराया. यहां डॉक्टरों ने बताया कि महिला ने किसी विषैले पदार्थ का सेवन कर लिया है और इस आधार पर उसका उपचार करने लगे”.

मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी वॉर्ड के एसीएमओ राहुल कुमार ने बताया, “विषाक्त पदार्थ के सेवन से महिला की गंभीर अवस्था को देखते हुए तुरंत उपचार शुरू कर दिया गया. उसके पेट से विषाक्त पदार्थ निकालने के लिए नली डाली गई तो कुछ देर बाद अचानक महिला के मुंह में विस्फोट के साथ आग और धुंआ निकलने लगा. इससे डॉक्टरों की टीम हैरानी में पड़ गई. कुछ देर बाद ही महिला की मौत हो गई”.

वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) अंजर जैदी ने बताया कि ऐसी घटना उनके मेडिकल कार्यकाल में पहली बार घटी है. उन्होंने कहा कि इसका वीडियो शोध और अध्ययन के लिए यूट्यूब और अन्य सोशल साइट पर भी डाला जाएगा.

डॉक्टरों का एक अनुमान यह है कि महिला ने संभवत: सल्फयूरिक एसिड का सेवन किया होगा जिसके सक्शन पाइप के जरिए ऑक्सीजन के संपर्क में आने से विस्फोट हो गया. हालांकि अस्पताल ने साफ किया है कि इस बारे में गहन अध्ययन के बाद ही वास्तविक कारण का पता चल पाएगा.