उन्नाव रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के हथियारों का लाइसेंस रद्द, 15 महीने बाद आया फैसला

आरोपी सेंगर के असलहों का लाइसेंस 15 महीने बाद रद्द किया गया है. हाईकोर्ट ने सेंगर के असलहों के लाइसेंस को लेकर सीबीआई से रिपोर्ट तलब की थी.

Unnao, Unnao News, Unnao Rape News, Unnao Gang rape, Unnao Gang Rape Case, Kuldeep Singh Sengar, Unnao Gang Rape Victim, Unnao Gang Rape Victim Accident

नई दिल्ली: उन्नाव गैंगरेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के सारे असलहों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं. जिला मजिस्ट्रेट के आदेश पर विधायक के असलहों का लाइसेंस रद्द किया गया है. सेंगर के पास एक बंदूक, एक राइफल और एक रिवॉल्वर का लाइसेंस मिला हुआ था. पीड़िता और उसके परिजनों ने आरोपी सेंगर के असलहों का लाइसेंस रद्द करने की मांग की थी.

CBI ने कोर्ट से की थी सिफारिश
सेंगर के असलहों का लाइसेंस 15 महीने बाद रद्द किया गया है. हाईकोर्ट ने सेंगर के असलहों के लाइसेंस को लेकर सीबीआई से रिपोर्ट तलब की थी. सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट में लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश की थी. मामले की शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई होनी थी.

इससे पहले जिलाधिकारी देवेंद्र पांडेय ने बताया था कि ‘लाइसेंस निरस्त करने की प्रक्रिया न्यायिक है, न कि प्रशासनिक. उनका कहना था कि हथियार निरस्त करने के संदर्भ में पुलिस की रिपोर्ट आ चुकी है. विधायक सेंगर की तरफ से उनके अधिवक्ता ने जवाब भी दाखिल किया था. बीते दिनों अधिवक्ता हड़ताल पर थे, इसलिए सुनवाई नहीं हो पाई थी.’

पीड़िता के चाचा को तिहाड़ स्थानांतरित करने का आदेश 
गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को पीड़िता के चाचा को उत्तर प्रदेश के रायबरेली जेल से दिल्ली के तिहाड़ जेल स्थानांतरित करने का आदेश दिया. पीड़िता के चाचा को तिहाड़ जेल स्थानांतरित करने वाली याचिका पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोई आपत्ति न जताने पर प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने यह आदेश जारी किया.

पीड़िता के चाचा उत्तर प्रदेश में 10 साल कारावास की सजा काट रहे हैं. इसके साथ ही पीड़िता और उसके परिवार के पुराने वीडियो को सार्वजनिक करने की जानकारी मिलने के बाद कोर्ट ने मीडिया को भी निर्देश दिया है कि वे उनकी पहचान को सार्वजनिक न करें.

ये भी पढ़ें-

ट्रक मालिक की नंबर प्लेट मिटाने की दलील निकली झूठी, समय पर दे रहा था EMI: उन्नाव केस में नया खुलासा

जम्मू कश्मीर: राज्यपाल से मिलीं महबूबा, घाटी में दहशत के माहौल को दूर करने का किया अनुरोध

खतरा अमरनाथ यात्रा पर है तो गुलमर्ग क्यों खाली कराया जा रहा है: उमर अब्दुल्ला

Related Posts