आजम खान और उनके बेटे की 2 मुकदमों में जमानत मंजूर, सपा नेता ने कहा- जेल में गंदगी से हो सकता है कोरोना

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) को दो मामले में एमपी एमएलए कोर्ट से राहत मिल गई है. कोर्ट ने जमानत अर्जी मंजूर कर ली है.

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) को दो मामले में एमपी एमएलए कोर्ट से राहत मिल गई है. कोर्ट ने जमानत अर्जी मंजूर कर ली है. आजम खान (Azam Khan) के वकील खलीलुल्लाह खान ने बताया कि रामपुर के अपर जिला जज-छह की अदालत ने मंगलवार को दो मामलों में जमानत दी है. एक सदर कोतवाली से जुड़ा मामला है तो दूसरा केस अजीमनगर थाने में दर्ज था.

आरोप लगाया गया था कि आजम खान अपने सहयोगियों के साथ लोगों के घरों में घुस गए और सारा सामान उठा ले गए. इस सिलसिले में बहस हुई. दोनों मामलों में अदालत ने जमानत स्वीकार कर ली. इन मुकदमों में आजम खान के करीबी पूर्व सीओ आलेहसन समेत कई अन्य लोगों के नाम शामिल थे. इसके अलावा अब्दुल्ला आजम से संबंधित अन्य मामलों में अब कल सुनवाई की जाएगी.

वहीं, सपा सांसद आजम खान से जिला जेल में मिलने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने मंगलवार को कहा कि उनके बैरक में गंदगी बहुत है. ऐसे में आजम खान को कोरोना वायरस का खतरा हो सकता है. चौधरी ने कहा कि रामपुर सांसद और उनके परिवार को लगातार परेशान किया जा रहा है, वे लोग जल्द ही न्यायालय का सहारा लेंगे. जेल में उन्हें अब तक बी श्रेणी की सुविधाएं नहीं दी गई है. उनको तनहाई में रखा गया है. जो काम नहीं होना चाहिए, वो सब उनके साथ हो रहा है. जेल के अंदर आजम खान और उनके परिवार को परेशान किया जा रहा है.

आजम खान को जेल भेजने के सवाल पर उनका कहना था कि मुसलमानों को डराने के लिए उन्हें (आजम खान) जेल भेजा गया है. उन्होंने कहा कि जब से सरकार बनी है. मुस्लिम विरोधी काम ही किया जा रहा है. जबकि देश की आजादी में जितना हाथ हिंदुओं का था, उतना मुसलमानों का भी.

Related Posts