जानें सीतापुर के बाद अब बरेली जेल में क्यों शिफ्ट किए गए आजम खान

पांच से सात मार्च तक आजम खान (Azam Khan) की लगातार रामपुर कोर्ट (Rampur Court) में पेशी होनी है, इस कारण उन्हें बरेली जेल (Bareilly Jail) शिफ्ट किया गया है. हालांकि पेशी के बाद उन्हें वापस सीतापुर जेल (Sitapur Jail) भेज दिया जाएगा.
Azam Khan shifted to Bareilly jail, जानें सीतापुर के बाद अब बरेली जेल में क्यों शिफ्ट किए गए आजम खान

सपा नेता आजम खान (Azam Khan) को गुरुवार को सीतापुर जेल (Sitapur Jail) से बरेली जेल (Bareilly Jail) में शिफ्ट किया गया है. रामपुर कोर्ट (Rampur Court) में पेशी के बाद अकेले आजम खान को बरेली जेल में शिफ्ट किया गया है. इससे पहले उनकी पत्नी तंजीन फातिमा (Tanzeem Fatima) और बेटे अब्दुल्लाह आजम (Abdullah Azam) के साथ आजम को रामपुर जेल (Rampur Jail) से सीतापुर जेल में शिफ्ट किया गया था.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी सुनवाई

दरअसल 5 से 7 मार्च तक आजम खान (Azam Khan) की रामपुर (Rampur) में पेशी होनी है, इस कारण उन्हें बरेली जेल (Bareilly Jail) शिफ्ट किया गया है. हालांकि पेशी के बाद उन्हें वापस सीतापुर जेल भेज दिया जाएगा. वहीं सुनवाई के दौरान कोर्ट ने आर्डर किया है जिसके तहत अब आजम खान एंड फैमिली को कोर्ट के अगले आदेश तक रामपुर कोर्ट में पेश होने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि उनकी सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के जरिए होगी. गरुवार को कोर्ट में आजम खान से संबंधित अचार संघिता (Model Code of Conduct) के उल्लंघन सहित तीन मामलों में सुनवाई हुई, जिसमें कोर्ट ने सुनवाई के लिए 13 मार्च और 27 मार्च की तारीख दी है.

सुरक्षा कारणों के चलते लिया फैसला

आजम खान के वकील खलीलुल्लाह खान (khalilullah Khan) ने बताया कि आजम खान के आज रामपुर कोर्ट में तीन मामले थे. दो मामले आचार संहिता के थे और एक मामला पड़ोसी ने दर्ज कराया था. इसमें आचार संहिता उल्लंघन के मामले की अगली सुनवाई 13 मार्च को होगी. वहीं पड़ोसी की तरफ से दर्ज कराए गए मुकदमे की अगली सुनवाई 27 मार्च को होगी. कोर्ट के आदेश के बाद ही अब आजम खान (Azam Khan) को रामपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा. वकील ने बताया कि आजम की सुरक्षा के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है.

मालूम हो कि सपा सांसद आजम खान, उनकी पत्नी तंजीन फातिमा (Tanzeem Fatima) और बेटे अब्दुल्लाह आजम (Abdullah Azam) ने 26 फरवरी को रामपुर कोर्ट में सरेंडर (Surrender) किया था. आजम खान एंड फैमिली के खिलाफ 84 से ज्यादा मुकदमें दर्ज हैं.

Related Posts