इटावा: जातीय विरोध के बाद चिता से उतारी गई दलित महिला की लाश, मामला सुलझने का दावा

फ़िलहाल इस मामले में अबतक कोई FIR दर्ज नहीं की गई है. ना ही दलित परिवार ने कोई शिकायत की है. सर्किल ऑफिसर वीर कुमार ने कहा कि मुद्दा शांतिपूर्वक सुलझा लिया गया है.
Body of dalit woman taken off pyre in Etawah, इटावा: जातीय विरोध के बाद चिता से उतारी गई दलित महिला की लाश, मामला सुलझने का दावा
प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश के इटावा (Etawah) जिले में अमानवीय घटना सामने आई है. यहां भेदभाव का शिकार इंसान ही नहीं लाश को भी होना पड़ा. जिले के काकरपुरा (Kakarpura) गांव में एक दलित महिला की लाश को गांव की ही एक उच्च जाति के लोगों के विरोध के बाद चिता से उतार दिया गया.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

घटना 19 जुलाई की है. नट समुदाय से ताल्लुक रखने वाली 26 साल की एक महिला की गर्भाशय के संक्रमण से मौत हो गई. जब उसके शव का दाह संस्कार किया जा रहा था तो गांव के ठाकुर समुदाय के लोग वहां पहुंच कर आपत्ति जताने लगे. उनका कहना था कि महिला के शव का क्रिया कर्म नागला दास श्मशान घाट में किया जाए, जो काकरपुरा से चार किलोमीटर दूर है और दलितों के लिए बनाया गया है.

विरोध के बाद चिता से उतारी गई लाश

दलित महिला के पति राहुल ने बताया कि उसकी पत्नी की मौत के बाद वह शव को लेकर ग्राम सभा श्मशान घाट गया. वहीं गांव के सभी लोग दाह संस्कार करते हैं. उसका 4 साल का बेटा जैसे ही चिता को आग लगाने वाला था, तभी ठाकुर समुदाय के लोग वहां पहुंच कर आपत्ति जताने लगे. उनका कहना था कि शव का क्रिया कर्म उस श्मशान घाट में किया जाए जो दलितों के लिए बनाया गया है.

बातचीत से मामला सुलझाने का दावा

राहुल ने बताया कि परिवार वालों, ग्राम प्रधान और स्थानीय नेताओं ने इस मामले में उन ठाकुरों को समझाने की कोशिश भी की, लेकिन वे नहीं माने. उनका कहना था कि गांव के नियम सभी को मानने चाहिए. हर समुदाय के लिए यहां अलग श्मशान घाट है.

फ़िलहाल इस मामले में अबतक कोई FIR दर्ज नहीं की गई है. ना ही दलित परिवार ने कोई शिकायत की है. सर्किल ऑफिसर वीर कुमार ने कहा कि मुद्दा शांतिपूर्वक सुलझा लिया गया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Body of dalit woman taken off pyre in Etawah, इटावा: जातीय विरोध के बाद चिता से उतारी गई दलित महिला की लाश, मामला सुलझने का दावा

Related Posts