चार साल बाद नोएडा मुठभेड़ में मारा गया बुलंदशहर गैंगरेप केस का मुख्य आरोपी

बबलू ने साल 2016 में बुलंदशहर के NH-91 पर एक परिवार की गाड़ी का टायर पंचरकर मां और बेटी के साथ गैंगरेप और लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था.

Bulandshahr gangrape case, चार साल बाद नोएडा मुठभेड़ में मारा गया बुलंदशहर गैंगरेप केस का मुख्य आरोपी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में NH-91 पर गैंगरेप केस का मुख्य आरोपी और CBI का मोस्टवांटेड अपराधी बबलू यूपी एसटीएफ के साथ नोएडा में हुई मुठभेड़ में मारा गया. पिछले चार साल से CBI और यूपी पुलिस की कई टीम बबलू की तलाश कर रही थीं लेकिन वो बेफिक्र होकर वारदातों को अंजाम दे रहा था.

साल 2016 में बुलंदशहर के नेशनल हाईवे-91 पर एक परिवार की गाड़ी का टायर पंचरकर मां और बेटी के साथ गैंगरेप और लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया गया था. इस खौफनाक वारदात ने पूरे देश को हिला दिया था, साथ ही इस वारदात ने सियासत भी गरमा दी थी.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कैसे हुआ एनकाउंटर

दरअसल, 2-3 जुलाई की दरमियानी रात यूपी एसटीएफ की नोएडा टीम को बबलू के टप्पल के पास आने की जानकारी मिली. जानकारी थी कि बबलू अपने साथियों के साथ किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए आने वाला है. तुरंत यूपी एसटीएफ की एक टीम गठित की गई. अलीगढ़ हाईवे पर खूंखार घुमंतू जाति गैंग के बदमाश बबलू के साथ पुलिस टीम की मुठभेड़ हुई, एनकाउंटर में गैंग के बदमाश बबलू को गोली लगी. घायल बदमाश को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

गैंगरेप के आरोपी बबलू का आपराधिक रिकॉर्ड

घुमंतू जाति का सदस्य और एक्सेल गैंग का सरगना बबलू और इसके साथी हाईवे पर गाड़ियों का टायर पंचर कर लूट पाट और महिलाओं के साथ बलात्कर जैसी वारदातों को अंजाम देते थे. बुलंदशहर में इस हैवान ने पिता के सामने ही उसकी बेटी और पत्नी के साथ बलात्कार किया था. बबलू अलीगढ़ और बुलंदशहर की 10 संगीन वारदातों में शामिल था. इन्हीं मामलों में बबलू वांटेड चल रहा था और इस पर अलीगढ़ से 50 हजार का और बुलंदशहर से 5 हजार का ईनाम था. साथ ही, बुलंदशहर गैंगरेप केस की जांच कर रही CBI टीम के रडार पर था.

क्या था बुलंदशहर रेप केस

वारदात 29 जुलाई साल 2016 की ही. रात के वक़्त नोएडा के ये परिवार यूपी के शाहजहांपुर में अपने रिश्तेदार की तेहरवी से लौट रहा था. कार में 6 लोग सवार थे. बुलंदशहर के NH 91 पर एक्सेल गैंग में गाड़ी का टायर पंचर किया. उसके बाद परिवार को बंधक बनाकर न सिर्फ लूटपाट की गई, बल्कि बंदूक के बल पर माँ-बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था.

एनकाउंटर के बाद CBI की जांच टीम ने यूपी एसटीएफ से संपर्क किया और सारी जानकारियां सांझा की है. CBI ने चार्जशीट में भी बबलू के नाम और रोल का जिक्र किया था.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts