CO ट्रैफिक हीरा लाल कनौजिया ने गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में किया जानलेवा स्टंट

CO ट्रैफिक का कहना है कि ये सब वो योग साधना के आधार पर करते हैं. वो काफी समय से योग साधना करते आ रहे हैं और पुलिस विभाग के अधिकारियों को इसकी ट्रेनिंग भी देते हैं.

आपने स्टंट अक्सर फिल्मों में देखे होंगे लेकिन फिरोजाबाद पुलिस में भी एक शख्स ऐसे हैं जो जानलेवा स्टंट करते हैं और उन्हें कुछ भी नहीं होता. बात हो रही है फिरोजाबाद के ट्रैफिक के CO हीरा लाल कनौजिया की, जो काफी समय से जानलेवा स्टंट करने में काफी माहिर हैं.

आज गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में पुलिस लाइन में कार्यक्रम का आयोजन हुआ था जिसमें CO ट्रैफिक हीरालाल कन्नौजिया ने परेड में निकलने वाली फोर व्हीलर गाड़ियों को अपने ऊपर से निकलवाया. यहां तक कि उन्होंने दो पुलिस की जीप के बीच फंसकर दोनों को रोक दिया.

Heera Lal Kanaujia, CO ट्रैफिक हीरा लाल कनौजिया ने गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में किया जानलेवा स्टंट

जब इस बारे में CO ट्रैफिक से बात की गई उनका कहना था कि, वह यह सब योग साधना के आधार पर करते हैं. वो काफी समय से योग साधना करते आ रहे हैं और पुलिस विभाग के अधिकारियों को इसकी ट्रेनिंग भी देते हैं

Heera Lal Kanaujia, CO ट्रैफिक हीरा लाल कनौजिया ने गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में किया जानलेवा स्टंट

होरीलाल कन्नौजिया ने बताया, यह योग साधना के माध्यम से किया जाता है. शरीर के आठ चक्र होते हैं, जिनको जागृत करना पड़ता है इसके बाद ये स्टेंट किए जाते हैं. इसमें कोई मैजिक नहीं है. साधना और प्राणायाम इसमें मायने रखता है. भारत में 2 योग हैं हठयोग और सांख्य योग. मैंने ये शिक्षा मिर्जापुर के प्रोफेसर योगीराज राज भट्ट मिश्रा जी से ली है.

Heera Lal Kanaujia, CO ट्रैफिक हीरा लाल कनौजिया ने गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में किया जानलेवा स्टंट

CO ट्रैफिक ने कहा, साल 1976 में जब मैं छठी क्लास में पढ़ता था, मैंने इसे सीखना शुरू किया और 1982 तक इसको सीखा. स्टंट बिल्कुल खतरनाक है अगर आपकी पूर्ण रूप से साधना नहीं है तो इसे कोई भी नहीं करें. आपकी साधना सही है तो कोई खतरा नहीं है. मुझे 6 साल लग गए और गुरुजी ने मुझे बराबर सिखाया. मैं डिफेंस फोर्स में हूं. जो हम करते हैं उसकी अधिकारी मुझसे पूरी जानकारी लेते हैं और प्रशिक्षण भी चलता रहता है. मैं अधिकारियों और पुलिस विभाग में जितने भी कर्मचारी उनको भी योग सिखाता हूं.