एनकाउंटर, पोस्‍टमार्टम, अंतिम संस्‍कार से बदले की धमकी तक, पढ़ें विकास दुबे मामले से जुड़े 10 अहम अपडेट

विकास दुबे का शुक्रवार शाम कानपुर के भैरव घाट मोक्ष धाम में अंतिम संस्कार किया गया. जानिए विकास दुबे के एनकाउंटर से लेकर उसके अंतिम संस्कार के सभी अपडेट्स 10 पॉइंट्स में-
Vikas Dubey's encounter updates, एनकाउंटर, पोस्‍टमार्टम, अंतिम संस्‍कार से बदले की धमकी तक, पढ़ें विकास दुबे मामले से जुड़े 10 अहम अपडेट

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे शुक्रवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर के बाहर गिरफ्तार किया गया, जिसके बाद आज कानपुर लाते समय उसने भागने की कोशिश की और मुठभेड़ में मारा गया. जानिए विकास दुबे के एनकाउंटर से लेकर उसके अंतिम संस्कार के सभी अपडेट्स 10 पॉइंट्स में-

  • गुरुवार को उज्जैन में गिरफ्तारी के बाद उत्तर प्रदेश STF विकास दुबे को लेकर कानपुर के लिए रवाना हुई, लेकिन कानपुर पहुंचने के पहले शुक्रवार सुबह लगभग 7 बजे के आस-पास STF के काफिले की वो गाड़ी पलट गई जिसमें विकास सवार था.
  • मौके का फायदा उठाते हुए विकास दुबे इंस्पेक्टर की पिस्टल लेकर कच्चे रास्ते की तरफ फरार हो गया, जिसके बाद उसे पकड़ने गई उत्तर प्रदेश STF की टीम पर उसने गोलीबारी शुरू कर दी. पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में उसे जख्मी कर दिया. जिसके बाद अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.
  • इसी दौरान विकास के कानपुर स्थित बिकरु गांव के पंचायत घर में तीन जिंदा बम मिले. जिसके बाद पुलिस के स्निफर डॉग और बम स्क्वाड ने विकास और उसके करीबियों के घर की तलाशी ली. साथ ही गांव वालों से कहा कि कानपुर मठभेड़ में इस्तेमाल किए गए हथियारों की अगर उन्हें जानकारी है तो वो पुलिस के साथ शेयर करें.
  • विकास की मौत की खबर आने के बाद जानकारी मिली की उसके शव का कोरोना सैंपल लिया गया. थोड़ी देर बाद विकास की कोरोना रिपोर्ट आई, जो कि नेगेटिव थी.
  • गिरफ्तारी के बाद भी विकास की एनकाउंटर में मौत को लेकर विपक्षी दलों के तमाम नेता इसमें किसी तरह की साजिश का दावा करते हुए सुप्रीम कोर्ट से जांच कराए जाने की मांग कर रहे थे. वहीं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा- “कानून ने अपना काम किया है. यह उन लोगों के लिए खेद और निराशा का विषय हो सकता है, जिन्होंने कल विकास दुबे की गिरफ्तारी और आज मौत पर सवाल उठाए. MP पुलिस ने अपना काम किया, उसे गिरफ्तार किया और यूपी पुलिस को सौंप दिया.”
  • दोपहर में यूपी STF ने एनकाउंटर को लेकर उठ रहे सवालों के बीच प्रेस रिलीज जारी की. इसमें इसमें कहा गया कि विकास दुबे को लेकर उज्जैन से कानपुर लौट रहे सरकारी वाहन के सामने गाय-भैंसों का झुंड आ गया, जिसकी वजह से गाड़ी ने नियंत्रण खो दिया और दुर्घटना हुई. इसका फायदा उठाकर विकास दुबे सरकारी पिस्टल छीनकर भागने लगा. बाद में मुठभेड़ में मारा गया.
  • शाम के समय करीब दो घंटे तक चले विकास दुबे के पोस्टमॉर्टम के बाद पुलिस ने उसका शव उसके रिश्तेदार को सौंप दिया. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक विकास दुबे को 3 गोलियां लगी थीं. एक गोली उसकी कमर में और बाकी दो गोलियां उसके सीने में लगी थीं.
  • रात करीब 8 बजे के आस-पास विकास दुबे का शव कानपुर के भैरव घाट मोक्ष धाम लाया गया. यहां इलेक्ट्रॉनिक मशीन द्वारा उसका अंतिम संस्कार किया गया. हालांकि इस दौरान उसके गांव से कोई भी विकास दुबे के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुआ.
  • विकास दुबे के पिता ने भी उसके अंतिम संस्कार में जाने से साफ इनकार कर दिया. जब उनसे पूछा गया कि क्या वो अपने बेटे के अंतिम संस्कार में जाएंगे, तो उन्होंने इनकार करते हुए कहा कि अगर वो हमारा कहा मानता तो आज इस दशा को क्यों प्राप्त होता. उसने हमारी कभी मदद नहीं की.
  • कानपुर के भैरव घाट मोक्ष धाम पर विकास का इलैक्ट्रॉनिक मशीन के जरिए अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान उसकी पत्नी, मां और बेटा मौजूद थे. इस दौरान विकास दुबे की पत्नी ने पुलिस और मीडिया को धमकी देते हुए कहा, “मैं सबको देख लूंगी.”

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts