यूपी के 18 जिलों में हाई अलर्ट, मेरठ में मस्जिद से भागकर मौलाना के घर छिपे 14 तबलीगी जमाती

हाई अलर्ट पर रखे गए 18 जिलों के पुलिस प्रमुखों को दिल्ली में मरकज में भाग लेने वालों की पहचान करने और उनकी मेडिकल जांच करवाने के लिए कहा गया है. जमात के जो लोग कोरोना को संदिग्ध पाए गए हैं, उनमें 100 लोग यूपी के बताये जा रहे हैं.
Nizamuddin tablighi group, यूपी के 18 जिलों में हाई अलर्ट, मेरठ में मस्जिद से भागकर मौलाना के घर छिपे 14 तबलीगी जमाती

दिल्ली के निजामुद्दीन (Nizamuddin) में 13 मार्च से 15 मार्च तक लगभग 2000 लोगों की धार्मिक बैठक तबलीगी जमात में शामिल हुए लोगों की जानकारी मिलने के बाद उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अठारह जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है. जमात के जो लोग कोरोना से संदिग्ध पाए गए हैं, उनमें 100 लोग यूपी के बताये जा रहे हैं.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए सख्त निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में हाई-लेवल की मीटिंग में सख्त निर्देश दिया कि तबलीगी जमात के लोगों की तेजी से तलाश की जाए. उन्हें ढूंढकर हर हाल में क्वारैंटाइन किया जाए. सीएम योगी ने साफ कहा कि इस काम किसी प्रकार की कोताही नहीं होनी चाहिए.

इस जमात में हिस्सा लेने वाले तेलंगाना (Telangana) के छह लोगों की मौत हो गई. उन सभी का कोरोना वायरस (CoronaVirus) परीक्षण पॉजिटिव निकला था.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

एसपी क्राइम अजय शंकर राय (Ajay Shankar Rai) के अनुसार, हाई अलर्ट पर रखे गए इन जिलों के पुलिस प्रमुखों को दिल्ली में मरकज में भाग लेने वालों की पहचान करने और उनकी मेडिकल जांच करवाने के लिए कहा गया है. साथ ही उन्हें मंगलवार शाम तक रिपोर्ट सौंपने के लिए भी कहा गया है. जांच में पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाकर क्वारंटीन (Quarantine) में रखने को कहा गया है.

इसके चलते गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, हापुड़, बिजनौर, बागपत, वाराणसी, भदोही, मथुरा, आगरा, सीतापुर, बाराबंकी, प्रयागराज, बहराइच, गोंडा और बलरामपुर जिलों में खासी सतर्कता बरती जा रही है.

मौलाना के घर में छिपे मिले 14 जमाती 

पुलिस की तलाशी के दौरान मेरठ में एक मौलाना के घर में 14 जमाती मिले हैं. ये सारे जमाती पड़ोसी देश नेपाल और अपने देश के बिहार और महाराष्ट्र राज्य के हैं. मस्जिद पर छापे के बाद मौलाना ने इन सबको परतापुर के कांशी गांव स्थित अपने घर में छिपाकर रखा हुआ था. पुलिस ने यहीं से इन सबकी बरामदगी की है.

राज्य सरकार को तबलीगी जमात में भाग लेने वालों की एक सूची मिली है. इस बैठक में भाग लेने वाले लगभग 250 सदस्यों में कोरोना वायरस के प्रारंभिक लक्षण दिखे हैं.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “हम इसे बहुत गंभीरता से ले रहे हैं और उन लोगों पर नजर रख रहे हैं जो इस जमात में शामिल हुए थे. हम यह सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास कर रहे हैं कि इसके कारण कोरोना के मामलों में कोई तेजी न आए.”

(IANS)

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts