मृतक के भाई को कॉलर पकड़कर खींचा था, अमेठी के DM को योगी सरकार ने हटाया

वीडियो में अमेठी डीएम प्रशांत शर्मा को एक युवक सुनील सिंह का कॉलर पकड़े हुए देखा जा सकता है. सुनील के साथ खड़े लोगों ने डीएम के एक्शन का विरोध किया, लेकिन वह उन्हें भी डांटते हुए दिखाई दे रहे हैं.

मृतक के भाई की कॉलर पकड़कर खींचने वाले अमेठी डीएम (जिलाधिकारी) प्रशांत शर्मा को योगी सरकार ने गुरुवार को हटा दिया है. अब अरुण कुमार अमेठी के नए डीएम होंगे.

ये है पूरा मामला

डीएम प्रशांत शर्मा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. जिसमें वे अपना आपा खोते हुए नजर आ रहे हैं. वीडियो में अमेठी डीएम प्रशांत शर्मा को एक युवक सुनील सिंह का कॉलर पकड़े हुए देखा जा सकता है. सुनील के साथ खड़े लोगों ने डीएम के एक्शन का विरोध किया, लेकिन वह उन्हें भी डांटते हुए दिखाई दे रहे हैं.

दरअसल, मंगलवार की शाम गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के बिसुनदासपुर निवासी भठ्ठा व्यवसायी विजय सिंह उर्फ सोनू की मुसाफिरखाना रोड पर बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. घटना के बाद से ही स्थानीय लोगों के साथ मृतक का परिवार यहां प्रदर्शन कर रहा था.

मंगलवार शाम से ही जारी प्रदर्शनों के बीच बुधवार सुबह किसी तरह मृतक का पोस्टमॉर्टम कराया. इसके बाद पोस्टमॉर्टम हाउस के बाहर एक बार फिर प्रदर्शन शुरू हो गया और लोग डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे.

इसी दौरान डीएम प्रशांत शर्मा अचानक पोस्टमॉर्टम हाउस पहुंच गए. धरने के बीच यहां पहुंचे डीएम से जब लोगों ने पुलिस पर हत्याकांड से पहले कार्रवाई ना होने की शिकायत की तो डीएम लोगों पर ही भड़क गए.  यहां डीएम ने सोनू के चचेरे भाई सुनील सिंह से पूरे मामले की जानकारी लेनी शुरू की.

बातचीत चल ही रही थी कि संवेदना के दो शब्द बोलने के बजाए डीएम अपना आपा खो बैठे. डीएम सुनील के भाई को पीछे से शर्ट खींचकर धक्का देते हुए भीड़ के बीच में ले गए. इस दौरान डीएम लगातार सुनील से कह रहे थे कि पहचानो इसमें किसके पास असलहा है.

इस दौरान डीएम लगातार सुनील से कह रहे थे कि पहचानो इसमें किसके पास असलहा है. मृतक के छोटे भाई गौरव सिंह उर्फ बादल ने जब अभद्रता पर आपत्ति जताई तो उसे डांटकर चुप करा दिया.

बुधवार को डीएम अमेठी नाम के ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया गया जिसमें सुनील सिंह सफाई दे रहे हैं. वीडियो में सुनील ने कहा, प्रिय मीडिया बंधुओं अमेठी से संबंधित डीएम द्वारा मेरे साथ अभद्रता का जो वीडियो दिखाया जा रहा वह एक एडिटेड वीडियो है. जिलाधिकारी महोदय ने हमारी सारी समस्याओं को सुना और हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया. जिलाधिकारी महोदय से हमारे व्यक्ति संबंध हैं और कई वर्षों से रहे हैं.

इस मामले में स्थानीय सांसद स्मृति ईरानी ने भी हस्तक्षेप किया है. स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर डीएम अमेठी को संवेदनशील बनने की सलाह दी है. सांसद ईरानी ने ट्विटर पर लिखा है, “विनय शील एवं संवेदनशील बने हम यही प्रयास होना चाहिए. जनता के हम सेवक है, शासक नहीं”.

ये भी पढ़ें-

11 लाख लौटा कर लिए सिर्फ 11 रुपए, बीएसएफ जवान ने दहेज प्रथा के खिलाफ पेश की मिसाल

नहीं हुई उद्धव ठाकरे और अहमद पटेल की मुलाकात, कांग्रेस-NCP से बातचीत जारी: संजय राउत