तीन साल पहले लापता हुई थी 4 साल की कशिश, किडनैपर ने अब फोन कर मांगी फिरौती

बच्ची के पिता के मुताबिक 8 से 10 जुलाई के बीच उनके पास फिरौती के लिए करीब 10 फोन कॉल आ चुके हैं.

नोएडा: हाल ही में किडनैपिंग से जुड़ा एक हैरतंगेज मामला सामने आया है, जिसमें किडनैपर ने 3 बाद फिरौती की रकम मांगी है. मामला नोएडा के सेक्टर 22 का है. जहां से एक 4 साल की बच्ची गायब हो गई थी. अब करीब तीन साल बाद कोई बच्ची के परिवार वालों को फोन करके 10 लाख रुपये मांग रहा है.

बच्ची का नाम कशिश रावत है. फोन कॉल के बाद बच्ची के पिता संजय रावत ने सेक्टर 24 पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई है. संजय के मुताबिक 8 से 10 जुलाई के बीच उनके पास फिरौती के लिए करीब 10 फोन कॉल आ चुके हैं. ये सभी कॉल अलग-अलग नंबर से आते हैं.

संजय ने बताया कि, ‘किडनैपर कहता है कि कशिश उसके साथ पंजाब में है. अगर मैं बेटी को जिंदा देखना चाहता हूं तो 10 लाख रुपये उसे दे दूं. हालांकि जब मैंने उससे बेटी की तस्वीर मांगी, तो उसने फोटो भेजने से इनकार कर दिया.’

इस मामले को लेकर थाने के SHO ने जांच शुरू कर दी है. जिन-जिन नंबर से फोन आया है उनकी छानबीन की जा रही है. SHO प्रदीप त्रिपाठी के मुताबिक कि जिस नंबर से फोन किया गया वो तेलंगाना और पश्चिम बंगाल का है जबकि कॉलर बता रहा है कि वो पंजाब में है.

पुलिस ने शक जताया है कि कोई संजय को बेटी के नाम पर ठग रहा है. वहीं किडनैपर ने बच्ची फोटो भेजने से मना किया है जिससे ये शक और भी पक्का हो जाता है.

बता दें कि कशिश रावत 2016 में नोएडा के सेक्टर 22 स्थित घर के सामने से लापता हुई थी. बच्ची तब खेल रही थी और कुछ देर में गायब हो गई. 12 मई को पिता संजय ने बच्ची की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई थी. केस दर्ज होने बाद पुलिस ने नोएडा, गाजियाबाद, दिल्ली, बुलंदशहर, हापुड़, मेरठ में छानबीन भी की थी लेकिन बच्ची की कोई जानकारी नहीं मिली.

बच्ची के मां-बाप ने उसे ढूंढने की भरपूर कोशिश और अपनी सारी कमाई कशिश को खोजने में खर्च दी. हाल ये हुआ कि घर का किराया नहीं दे पा रहे थे और उन्हें नोएडा छोड़कर उत्तराखंड के अपने गांव में बसना पड़ा. मां-बाप को अभी बेटी के लौटने की उम्मीद है.