उत्तर प्रदेश में बनेगा ट्रांसजेंडर्स के लिए पहला शौचालय

अब तक इस प्रकार के शौचालय मैसुरू, भोपाल और नागपुर में बनाए जा चुके हैं.

उत्तर प्रदेश में ट्रांसजेंडर्स के लिए पहला शौचालय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में खुलने जा रहा है. भारतीय महिला बास्केटबॉल टीम की पूर्व कप्तान प्रशांति सिंह और पूर्व ओलंपियन राहुल सिंह ने यह पहल की है.

प्रशांति सिंह ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “काफी विचार विमर्श करने के बाद हमने ट्रांसजेंडर्स के लिए शौचालय बनाने का निर्णय किया.”

नेशनल स्पोर्ट्स डे के दिन 29 अगस्त को इसके संदर्भ में सर्वे करवाया जाएगा. वाराणसी स्पोर्ट्स फेडरेशन इस प्रोजेक्ट में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेगा.

राहुल सिंह ने कहा कि पहले इस बात पर ध्यान दिया जाएगा कि कैसे अधिकतम संख्या में ट्रांसजेंर्डस इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं. इसके बाद ही शौचालय की प्रस्तावित साइट को तय किया जाएगा.

इन शौचालयों का निर्माण 2 अक्टूबर से शुरू होगा.

सुप्रीम कोर्ट ने साल 2014 में ट्रांसजेंडर्स के लिए अलग से शौचालयों के निर्माण का आदेश दिया था. अब तक इस प्रकार के शौचालय मैसुरू, भोपाल और नागपुर में बनाए जा चुके हैं.

ये भी पढ़ें- रेलवे स्टेशन और हवाईअड्डों पर मिलेगी कुल्हड़ वाली चाय, केंद्रीय मंत्री गडकरी ने लिखा पत्र