अंडरग्राउंड था Vikas Dubey के राइट हैंड का बाप, मौत की फैलाई थी झूठी खबर

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, "संजीव (Sanjeev) जब अपने बेटे की मौत की खबर सुनकर अपने ठिकाने से बाहर आया तो पुलिस ने उसे पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान "उसने बताया कि वह एक दुर्घटना में बाल-बाल बच गया था, लेकिन उसने अपना पैर खो दिया."
amar dubey father alive, अंडरग्राउंड था Vikas Dubey के राइट हैंड का बाप, मौत की फैलाई थी झूठी खबर

कानपुर के बिकरु गांव में पुलिस मुठभेड़ के दौरान मारे गए बदमाश अमर दुबे के पिता संजय दुबे को गुरुवार को पुलिस ऑपरेशन के दौरान जिंदा देखा गया. गांव में विकास दुबे (Vikas Dubey) ने अमर दुबे और अन्य अपराधियों के संग मिलकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी. अमर दुबे को विकास दुबे का दायां हाथ माना जाता था. पुलिस ने उसे हमीरपुर जिले के मौदाहा में बुधवार को मार गिराया था.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

गुरुवार को, जब पुलिसकर्मी बिकरू गांव में एनकाउंटर (Encounter) में मारे गए अमर की जानकारी देने पहुंचे तो उन्हें पता चला कि उसका पिता अभी भी जिंदा है. खबरी पुलिस को संजीव के ठिकाने ले गया, जहां वह लगभग एक दशक से गुमनामी की जिंदगी जी रहा था.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “संजीव जब अपने बेटे की मौत की खबर सुनकर अपने ठिकाने से बाहर आया तो पुलिस ने उसे पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान, उसने बताया कि वह एक दुर्घटना में बाल-बाल बच गया था, लेकिन उसने अपना पैर खो दिया.”

संजीव (sanjeev) के ऊपर हत्या की कोशिश, फिरौती और लूट समेत 12 मामले चौबेपुर पुलिस स्टेशन में दर्ज हैं.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “वह सात वर्ष पहले एक सड़क दुर्घटना के बाद अंडरग्राउंड हो गया था और परिवार वालों से यह खबर फैलाने के लिए कहा था कि वह मर गया है, ताकि उसके खिलाफ चल रहे सारे आपराधिक मामले बंद हो जाएं.”

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts