गाजीपुर जिला जेल का हेड वार्डन घूस लेते हुए गिरफ्तार

सदर कोतवाली में श्याम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया और फिर जेल भेज दिया गया.

गाजीपुर: जिला जेल का हेड वार्डन श्याम नारायण घूस लेते हुए गिरफ्तार किया गया है, जोकि वहीं के वार्डन से दस हजार रुपए घूंस ले रहा था. इस पूरे मामले पर वाराणसी की एंटी करप्शन टीम ने कार्रवाई की है. हेड वार्डन को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है.

बता दें कि जिला जेल में ड्यूटी कर रहे ज्ञानेंद्र दुबे ने कुछ दिन पहले अवकाश लिया था, तिस पर उनके वेतन से ली गई छुट्टी के पैसे काटे गए थे. विभागीय स्वीकृति के बाद वेतन से काटे गए पैसे जारी कर दिए गए मगर ज्ञानेंद्र के खाते में नहीं पहुंचे.

पैसे न मिलने पर ज्ञानेंद्र ने हेड वार्डन को लेटर लिखकर वेतन जारी करने की बात कही. इस काम के लिए हेड वार्डन ने ज्ञानेंद्र से दस हजार रुपए की घूंस मांगी. ज्ञानेंद्र के मना करने पर श्याम नारायण ने उनकी मांग को नजरंदाज कर दिया.

ज्ञानेंद्र दुबे ने इस मामले की शिकायत वाराणसी की भ्रष्टाचार निवारण संगठन इकाई से की. मसले की जिम्मेदारी इंस्पेक्टर सुरेंद्र नाथ दुबे को सौंपी गई. बुधवार को एंटी करप्शन टीम गाजीपुर पहुंची और तय किए प्लान के मुताबिक ज्ञानेंद्र के हाथों दस हजार रुपये श्याम नारायण को भिजवाए गए.

जैसे ही हेड वार्डन ने पैसे लिए एंटी करप्शन टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. सदर कोतवाली में श्याम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया और फिर जेल भेज दिया गया.