रेप के आरोपी घोसी सांसद अतुल राय को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं, केस दर्ज होने के बाद से फरार

वाराणसी के एक पुलिस थाने में खिलाफ मामला दर्ज कराए जाने के बाद से अतुल राय फरार हैं.

नई दिल्‍ली: यूपी की घोसी लोकसभा सीट से बीएसपी के सांसद अतुल राय को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली है. उनकी अग्रिम जमानत की मांग सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है. अतुल राय के खिलाफ महिला ने रेप और अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है. मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही अतुल राय फरार चल रहे हैं.

इससे पहले, 17 मई को भी सुप्रीम कोर्ट ने अतुल राय को राहत देने से इनकार किया था. राय ने 23 मई को आम चुनाव के नतीजे आने तक गिरफ्तारी से बचने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में जमानत याचिका दायर की थी.

बताया जा रहा है कि एक कॉलेज छात्र द्वारा पहली मई को वाराणसी के एक पुलिस थाने में राय के खिलाफ मामला दर्ज कराए जाने के बाद से राय फरार हैं. पीड़िता का कहना है कि राय ने उसका यौन उत्पीड़न किया है.

राजनीति से प्रेरित है मामला : राय

राय के वकील ने याचिका में कहा कि यह मामला राजनीति से प्रेरित है. उनके मुवक्किल को चुनाव प्रचार से रोकने के लिए और घोसी निर्वाचन क्षेत्र से एक उम्मीदवार की जीत की संभावना खत्म करने की नीयत से यह मामला दर्ज कराया गया है.

कभी वामपंथ का गढ़ रहे घोसी में ऐसी चर्चा है कि अतुल राय गिरफ्तारी से बचने के लिए मलेशिया चले गए हैं. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने कहा कि अतुल राय के किसी दूसरे देश भाग जाने की संभावना है, इसलिए पुलिस ने उनके लिए लुकआउट नोटिस जारी किया है.

ये भी पढ़ें

लोकसभा में सबसे ज्यादा करोड़पति सांसद बीजेपी के, टॉप 3 पर कांग्रेसी

BPL कार्ड रखने वाला बना सांसद, PT टीचर ने पूर्व केंद्रीय मंत्री को सवा दो लाख वोटों से हराया