VIDEO: सरकारी कर्मचारी के हाथों जूते पहने, फिर यूपी के मंत्री बोले- भरत ने तो खड़ाऊ रख किया था राज

जब मंत्रीजी से सवाल किया गया तो उन्‍होंने अपनी तुलना भगवान राम से कर डाली.

नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश के मंत्री लक्ष्‍मी नारायण विवादों में घिर गए हैं. 21 जून को ‘इंटरनेशनल योगा डे’ के मौके पर शाहजहांपुर के रामलीला मैदान में कार्यक्रम था. मंत्रीजी इसमें श‍िरकत करने पहुंचे थे. योग करने के बाद मंत्रीजी को एक सरकारी कर्मचारी जूते पहनाते नजर आया. इस पूरी घटना का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

दरअसल, सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने मंत्रियों को अपने-अपने जिलों में रहने को कहा था. यूपी सरकार में दुग्‍ध विकास मंत्री लक्ष्‍मी नारायण चौधरी शाहजहांपुर गए. उनके साथ केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री स्‍वामी चिन्‍मयानंद भी मौजूद थे.

योग करने के बाद जब वे उठे तो उनको अपने जूते पहनने थे. एक सरकारी कर्मचारी ने जूते उठाए और मंत्रीजी को पहनाने शुरू कर दिए. वहां मौजूद किसी शख्‍स ने इसका वीडियो बना लिया.

बाद में जब पत्रकारों ने इस बात को लेकर मंत्रीजी से सवाल किया तो उन्‍होंने अपनी तुलना भगवान राम से कर डाली. उन्‍होंने मीडिया से कहा, “अगर कोई भैया, भतीजा या परिवार का व्‍यक्ति हमें यदि जूता पहना दे, तो ये तो हमारा वो देश है जहां भगवान राम के खड़ाऊ रख के भरत ने 14 साल राज किया था. आपको तो इस बात की तारीफ करनी चाहिए.”

यह पहली बार नहीं है जब नारायण विवादों में फंसे हैं. 2018 में ‘दीपोत्सव’ कार्यक्रम के दौरान, उन्होंने दावा किया था कि राम ने भारत को एक वैश्विक महाशक्ति बनाया है. उसी वर्ष एक अन्य प्रकरण में उन्होंने हनुमान की जाति पर बहस के बीच दावा किया था कि हनुमान जाट समुदाय के हैं.

ये भी पढ़ें

शादी करना चाहता है शामली का यह लेसबियन कपल, UP पुलिस से लगाई सुरक्षा की गुहार

यूपी: पापा की कार में गलती से बंद हो गया 5 साल का मासूम, दम घुटने से हुई मौत