सावरकर जयंती पर हिंदू महासभा ने नाबालिग छात्रों को बांटे चाकू

महासभा राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे ने छात्रों को चाकू बांटने के मामले पर कहा कि यह हिंदुआ को प्रेरित करने और सशक्त करने के ओर एक कदम है.

आगरा: हिंदू महासभा के नेता विनायक दामोदर सावरकर उर्फ वीर सावरकर की जयंती के मौके पर आगरा के अखिल भारत हिंदू महासभा ने दसवीं और बारहवीं क्लास के नाबालिग छात्रों को चाकू बांटे.

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले पर बात करते हुए हिंदू महासभा के प्रवक्ता अशोक पांडे ने कहा, “सावरकर का सपना था, ‘राजनीति का हिंदुकरण और हिंदुओं का सैनिकीकरण हो.’ लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद मोदी जी ने सावरकर के पहले सपने को पूरा कर दिया है अब चाकू बांटकर और हिंदू सैनिकों को बनाकर हम उनका दूसरा सपना पूरा कर रहे हैं.”

इसके बाद अशोक पांडे ने कहा, “अगर हिंदुओं को खुद की और अपने देश की रक्षा करनी है, तो उन्हें हथियार चलाना सीखना होगा.”

महासभा राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे ने छात्रों को चाकू बांटने के मामले पर कहा कि यह हिंदुआ को प्रेरित करने और सशक्त करने के ओर एक कदम है. खासकर युवा पीढ़ी को, ताकि वे चाकू से खुद की रक्षा कर सकें.

पूजा शकुन ने बताया कि उन्होंने चाकू के साथ-साथ छात्रों को हिंदुओं की धार्मिक किताब भगवत गीता भी बांटी, ताकि परीक्षा में उनका परिणाम अच्छा आए. चाकू बांटने को लेकर उन्होंने कहा कि वे चाहती हैं कि छात्र ये सीखें कि हथियार कब और कैसे चलाना है.

पूजा ने कहा, “मैं बस चाहती हूं कि छात्र खुद को मजबूत और स्वतंत्र महसूस करें ताकि अपने घर की बहन-बेटियों की रक्षा कर सकें.” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महिलाओं और लड़कियों के साथ अपराध के कई मामले सामने आते हैं, और उन्हें खुद की रक्षा करने के लिए चाकू चलाना आना चाहिए.