WhatsApp की मदद से अवैध शराब-सरकारी राशन का काला धंधा, ऐसे जान बचाती थी विकास दुबे की पत्नी

पुलिस पूछताछ में विकास दुबे (Vikas Dubey) के गिरफ्तार साथी दयाशंकर अग्निहोत्री ने कई राज खोले. उसने बताया कि विकास को एनकाउंटर (Encounter) के बारे में कई घंटे पहले से पूरी जानकारी थी. उसने गैंगस्टर (Gangester) के भागने की पूरी कहानी भी बताई.
gangster Vikas Dubey wife modus operandi, WhatsApp की मदद से अवैध शराब-सरकारी राशन का काला धंधा, ऐसे जान बचाती थी विकास दुबे की पत्नी

गिरफ्तार इनामी बदमाश दयाशंकर अग्निहोत्री ने पुलिस पूछताछ में गैंगस्टर विकास दुबे के काले कारोबार के बारे में कई राज उगले हैं. उसके मुताबिक विकास दुबे का अवैध शराब का धंधा था. मुठभेड़ में मारा गया बदमाश अतुल दुबे इस काम को सम्हालता था.

शिवराजपुर ब्लॉक के राशन कोटो  का आवंटन भी विकास की मर्जी से ही होता था. राशन डीलर उसी के हिसाब से काम करते थे. अगर किसी ने आनाकानी की तो विकास अपने रसूख से राशन डीलर का लाइसेंस निरस्त करवा देता था. विकास की सारी मीटिंग गांव के नजदीक बगिया में होती थी. वहीं सभी बदमाशों को इकठ्ठा किया जाता था. मीटिंग की जानकारी व्हाट्सएप्प कॉल के जरिए दी जाती थी. कई बार लोगों को भेजकर बुलवाया जाता था. बैठक में सभी के मोबाइल फोन जमा करवा लिए जाते थे.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

पुलिस पूछताछ में विकास दुबे के साथी दयाशंकर ने कई राज खोले. उसने बताया कि विकास को एनकाउंटर के बारे में कई घंटे पहले पूरी जानकारी थी. उसने गैंगस्टर के भागने की पूरी कहानी भी बताई.

1. दयाशंकर से पूछताछ में पता चला है दबिश की जानकारी साढ़े 5 घंटे पहले विकास को फोन से मिली थी जिसके बाद उसने सभी दरवाजे खिड़की बंद करने का आदेश अपने गुर्गों को दिया और फोन कर असलाह धारी लोगो को जुटाकर उन्हें अपने मकान के आसपास तीन दिशाओं में छतों पर तैनात कर दिया था.

विकास ने दयाशंकर से कहा था कि आज आने दो इतने खाकी वालों को गिरा दूंगा कि गिनना मुश्किल हो जाएगा.

2. दबिश की सूचना के बाद ही विकास दुबे ने अपने भागने की तैयारी कर ली थी. पुलिसकर्मियों की हत्या करने के बाद विकास दुबे बाइक से गांव से फरार हुए था. गांव की गली से निकलकर पांडु नदी पारकर बेला बिधूना रोड पहुंचा, जहां पहले से विकास का एक गुर्गा वैन लेकर तैयार खड़ा था. वहां से वैन के जरिये विकास हाइवे की तरफ निकल गया.

3. विकास की एक डायरी जिसमें उसके वसूली के काले कारनामों का जिक्र है पुलिस उसकी तलाश कर रही है. उस डायरी में अवैध वसूली के साथ ही विकास के जमीन से जुड़े अवैध कारोबार का भी काला चिठ्ठा है. विकास दुबे के सभी मामलों की दोबारा समीक्षा की जाएगी उसकी पुरानी केस डायरी को भी खोला जा रहा है.

4. पत्नी ऋचा अपने बच्चों के साथ लखनऊ में रहती थी, लेकिन विकास दुबे के अपराधों में उसका सहयोग करती थी. विकास किस घटना में शामिल है इसकी जानकारी ऋचा को रहती थी. बिकरु गांव में बने घर के बाहर लगे सीसीटीवी ऋचा के मोबाइल से भी कनेक्ट थे. जब कभी विकास को पुलिस उठाती थी ऋचा एनकाउंटर के डर से सोशल मीडिया पर सीसीटीवी फुटेज वायरल कर देती थी. ज्यादातर संपत्ति यानी जमीन-फ्लैट ऋचा के नाम से ही है.

विकास ने घटना के बाद लखनऊ अपनी पत्नी को फोन कर बेटे के साथ तुरंत घर छोड़ने को कहा था. लखनऊ में सीसीटीवी कैमरे में 2 बजे विकास की पत्नी ऋचा अपने बेटे के साथ बैग लेकर बाहर आती दिख रही है.

5. कानपुर पुलिस की तरफ से विकास पर इनाम की राशि बढ़ाकर 5 लाख करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है. चौबेपुर थाने के सभी पुलिसकर्मियों के प्राइवेट सिम जमा करा लिए गए हैं.

जानकारी के मुताबिक मुठभेड़ की घटना में पूछताछ के आधार पर कुछ नाम और दर्ज किए जाएंगे. अतुल दुबे का बेटा वितुल दुबे के नाम असलाह का लाइसेंस है. उसने भी पुलिस पर गोलियां बरसाई थी. पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है. पुलिस ने ऐसे 10 लोगो को और चिन्हित किया है. एफआईआर में उन सभी के नाम भी दर्ज किए जाएंगे.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts