Kanpur Encounter में नया खुलासा- CO देवेंद्र मिश्रा और SO विनय तिवारी के बीच चल रही थी अनबन

पांच महीने पहले चौबेपुर के जरारी गांव में तत्कालीन CO देवेंद्र मिश्रा ने लाखों रुपए का जुआ पकड़ा था. SO विनय तिवारी के संरक्षण में ये जुआ चलता था. उन्हें इसके बदले में पैसा पहुंच रहा था.
Kanpur Encounter inquiry, Kanpur Encounter में नया खुलासा- CO देवेंद्र मिश्रा और SO विनय तिवारी के बीच चल रही थी अनबन

कानपुर एनकाउंटर (Kanpur Encounter) मामले की जांच में गुजरते समय के साथ नए-नए खुलासे हो रहे हैं. इसी सिलसिले में CO देवेंद्र मिश्रा और SO विनय तिवारी को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. सूत्रों के मुताबिक, देवेंद्र मिश्रा और विनय तिवारी में पहले से ही अनबन चल रही थी.

जुआ पकड़े जाने का घटना के बाद से बड़ी अनबन 

सूत्रों ने बताया है कि पांच महीने पहले चौबेपुर के जरारी गांव में तत्कालीन CO बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा ने लाखों रुपए का जुआ पकड़ा था. थानेदार विनय तिवारी के संरक्षण में ये जुआ चलता था. उन्हें इसके बदले में पैसा पहुंच रहा था.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

बताया जा रहा है कि जुआ के खुलासे के बाद से ही दोनों के बीच तनातनी चल रही थी. देवेंद्र मिश्रा ने तत्कालीन SSP अनंत देव को भी इसकी रिपोर्ट भेजी थी.

इसके बाद से ही CO बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा और चौबेपुर SO विनय तिवारी की अनबन शुरू हुई थी. अब पुलिस महकमे की इस आपसी अनबन के तार कानपुर एनकाउंटर से जोड़े जा रहे हैं.

48 घंटे से अधिक समय से फरार विकास दुबे

गौरतलब है कि कानपुर में घात लगाकर आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद गैंगस्टर विकास दुबे को लापता हुए 48 घंटे से अधिक समय हो गया है. इसके बावजूद राज्य पुलिस के पास अभी भी उसके ठिकाने को लेकर कोई अहम सुराग नहीं है.

विकास, उसके साथियों और रिश्तेदारों के सभी फोन सर्विलांस पर लगाए गए हैं, लेकिन गैंगस्टर ने अब तक किसी भी संचार उपकरण का इस्तेमाल नहीं किया है.

योगी आदित्यनाथ की सरकार ने शनिवार रात को विकास पर इनाम को बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया. साथ ही उसके 18 साथियों के लिए 25,000 रुपये के इनाम घोषित किए गए हैं.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts