कानपुर के दरिंदे : छेड़छाड़ के आरोपी जमानत पर छूटे, पीड़‍िता की मां को पीट-पीटकर मार डाला

साल 2018 में आबिद, मिंटू, महबूब, चांद बाबू, जमील और फरोज नाम के युवकों पर एक नाबालिक लड़की से छेड़छाड़ करने का आरोप लगा था.

कानपुर के चकेरी में बीते दिनों दबंगों द्वारा एक परिवार की तीन महिलाओं को पीटने के मामले में एक की मौत हो गई है. पीटने वाले आरोपी मृत महिला की बेटी से छेड़छाड़ करने के आरोप में जेल काट कर आए थे. वही महिला इस केस में मुख्य गवाह भी था. पिटाई के बाद इन तीनों महिलाओं में से दो की हालत काफी गंभीर हो गई थी. इन्हें हैलट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गाया था.

दरअसल साल 2018 में आबिद, मिंटू, महबूब, चांद बाबू, जमील और फरोज नाम के युवकों पर एक नाबालिक लड़की से छेड़छाड़ करने का आरोप लगा था. मामले में FIR दर्ज होने के बाद सभी 6 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया था. पिछले कुछ दिनों पहले ही यह सभी जमानत पर रिहा हुए थे.

जिसके बाद गुरुवार को हथियार बंद बदमाश पीड़िता के घर में घुस गए. आरोपी पीड़ित परिवार को केस वापस लेने के लिए धमकाने लगे लेकिन उन्होंने मना करा दिया. जिसके बाद बदमाशों ने घर में मौजूद तीन महिलाओं को काफी बुरी तरह से पीटा. इस हमले में पीड़िता की मां सहित तीन महिलाएं घायल हो गईं थीं.

इसके बाद सभी घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया. डॉक्टरों ने पीड़िता की मां और एक महिला की हालत गंभीर बताते हुए उन्हें हैलट हॉस्पिटल रेफर कर दिया था. जहां शुक्रवार को पीड़िता की मां ने दम तोड़ दिया. परिवार वालों का कहना है कि पुलिस की लापरवाही से महिला की जान गई है. आरोपी पहले भी कई बार जान से मारने की धमकी दे चुके थे लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

ये भी पढ़ें: गौरव चंदेल मर्डर केस : पुलिस को मिला मोबाइल, हत्‍यारों ने एक और को बनाया था शिकार