मेरठ में वकील की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों का किया घेराव

आक्रोशित लोगों ने राज्य में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए और आनंद अस्पताल में पुलिस अधिकारियों का घेराव कर दिया.
Lawyer, मेरठ में वकील की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों का किया घेराव

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में शुक्रवार रात को सीनियर वकील मुकेश शर्मा की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी. हमलावरों ने मेडिकल थाना क्षेत्र में शर्मा को गोली मारी और फरार हो गए. गोली लगने के बाद शर्मा को आनंद अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. मुकेश शर्मा मेरठ बार संघ से जुड़े सीनियर वकील थे.

कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल
मृतक के परिजन और वकीलों के साथ ही स्थानीय लोग इस घटना के बाद आक्रोशित हो गए. उन्होंने राज्य में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए और आनंद अस्पताल में पुलिस अधिकारियों का घेराव कर दिया. आक्रोशित लोगों ने कई घंटे तक शव का पंचनामा नहीं भरने दिया गया.

जिला पुलिस प्रवक्ता के अनुसार, मेडिकल थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव निवासी मुकेश शर्मा मेरठ बार एसोसिएशन के सदस्य और ब्राह्मण सभा के पदाधिकारी भी थे. शुक्रवार रात करीब साढ़े नौ बजे वह अपने घर से पैदल ही गांव में टहलने निकले थे. घर से करीब 400 मीटर की दूरी पर प्राथमिक स्कूल के पास हमलावरों ने उन्हें सिर में गोली मार दी.

DM अनिल ढींगरा घटनास्थल पर पहुंचे
प्रवक्ता ने बताया कि खून से लथपथ मुकेश शर्मा को आनंद अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. घटना की सूचना पर डीएम अनिल ढींगरा, एसएसपी अजय साहनी भारी संख्या में पुलिस बल के साथ पहुंचे.

शर्मा के साथी वकीलों ने एसएसपी से जिले में कानून व्यवस्था को लेकर कड़ी शिकायत दर्ज कराई है. उन्होंने बताया कि शर्मा ने भूमाफियाओं की शिकायत प्रमुख सचिव, डीजीपी, डीएम और एसएसपी से की थी. उसके बाद भी मुकेश शर्मा को सुरक्षा नहीं दी गई. गांव के ही कुछ लोगों ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा था.

ये भी पढ़ें-

हरियाणा चुनाव: सपना चौधरी सिरसा में गोपाल कांडा के लिए करेंगी चुनाव प्रचार, BJP नाराज

Haryana Election: राहुल गांधी की दूसरी रैली में भी क्यों नहीं पहुंचे भूपेंद्र सिंह हुड्डा?

पराली जलाने वाले राज्यों को बचा रहीं केंद्रीय एजेंसियां: गोपाल राय

Related Posts