चित्रकूट के जंगल में करंट लगाकर किया तेंदुए का शिकार, 4 गिरफ्तार

वन अधिकारियों (Forest Officers) ने आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की, जिसने तेंदुए का शिकार करना स्वीकार किया है और उसके बताने पर तीन साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में चित्रकूट जिले के गढ़चपा वन क्षेत्र में गाड़ाकछार गांव के जंगल में विद्युत करंट लगाकर कथित रूप से एक तेंदुए का शिकार करने और उसके अंगों को काट कर आपस में बांटने के आरोप में वन अधिकारियों ने बुधवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार किया.

गढ़चपा वन क्षेत्र के रेंजर राम प्रकाश शुक्ला ने कहा, “दो दिन पूर्व एक अज्ञात व्यक्ति ने पत्र के माध्यम से गाड़ाकछार गांव के जंगल में विद्युत करंट लगाकर एक तेंदुए का शिकार करने के बाद उसके अंगों को आपस में बांटने की शिकायत की थी और यह मामला सोशल मीडिया में भी वायरल हुआ था.”

उन्होंने कहा, “पत्र में कहा गया था कि 28 फरवरी की रात गाड़ाकछार गांव के युवक भइयालाल ने अपने अन्य सात साथियों के साथ जंगल में विद्युत करंट लगाकर इस घटना को अंजाम दिया.”

शुक्ला ने कहा, “पत्र का तुरंत संज्ञान लेते हुए वन अधिकारियों ने भइयालाल को हिरासत में लेकर पूछताछ की, जिसने तेंदुए का शिकार करना स्वीकार किया है और उसके बताने पर उसके तीन अन्य साथियों को भी बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही फरार अन्य चार शिकारियों की तालाश अभी की जा रही है.”

रेंजर ने कहा, “अभी तक मृत तेंदुए के अंग और शव के अवशेष बरामद नहीं हो सके हैं, जिसके लिए प्रयास जारी है.”

शुक्ला ने कहा, “इस संबंध में वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत नजदीकी थाना में सभी आठ आरोपियों के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज करवाया गया है. गिरफ्तार किए गए इन चारों शिकारियों को पुलिस को सौंप दिया गया है, पुलिस आगे की जांच कर रही है.”

-IANS

Related Posts