Coronavirus: यूपी के सभी जिलों में लेवल 1 के अस्पताल एक्टिव, CM योगी बोले- बनाए 6000 से ज्यादा आइसोलेशन बेड

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि प्रदेश में 24 सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं. इनमें से 12 मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड किया जा रहा है.
CM Yogi Adityanath on Coronavirus, Coronavirus: यूपी के सभी जिलों में लेवल 1 के अस्पताल एक्टिव, CM योगी बोले- बनाए 6000 से ज्यादा आइसोलेशन बेड

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रदेश भर के पत्रकारों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर कोरोना संकट पर चर्चा की. सीएम योगी ने कहा, “दुनिया कोरोना महामारी की चपेट में है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत कोरोना से लड़ रहा है. लोगों के बीच कोरोना को लेकर जागरूकता पैदा करने के लिए मीडिया का अहम रोल है. इस बीमारी का सबसे बड़ा उपाय भी जागरूकता ही है. मीडिया के सकारात्मक भूमिका के लिए सभी का धन्यवाद.”

राज्य में कोरोना पॉजिटिव लोगों पर बात करते हुए योगी ने कहा, “यूपी में अभी तक 314 केस कोरोना वायरस के पॉजिटिव पाए गए हैं. पिछले 4 दिनों में सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज बढ़े हैं. 168 मरीज केवल तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं. हम कोरोना को यूपी में पूरी तरह कंट्रोल कर चुके थे, लेकिन अब बड़ी संख्या को भी हम कंट्रोल कर रहे हैं. तबलीगी जमात से जुड़े सभी लोगों को क्वारंटीन किया गया है. तबलीगी जमात से जुड़े लोगों के संपर्क में आए लोगों को भी क्वारंटीन कर रहे हैं. सर्विलांस पर 61500 से ज्यादा लोगों को रखा गया है. कोरोना का पहला मरीज 3 मार्च को सामने आया था.”

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

कोरोना से लड़ने की सरकार की तैयारियों पर सीएम बोले, “यूपी में 10 टेस्टिंग लैब में 1200 से 1500 जांच रोज हो रही हैं. 6000 से ज्यादा आइसोलेशन बेड हमारे पास तैयार हैं. 12000 से ज्यादा क्वारंटीन बेड हमारे पास तैयार हैं. प्रदेश के सभी 75 जिलों में लेवल वन के हॉस्पिटल एक्टिव हैं और प्रदेश के 51 जिलों में लेवल 2 स्तर के हॉस्पिटल तैयार हैं. साथ ही लेवल 3 स्तर के 6 हॉस्पिटल प्रदेश में हमने तैयार कर लिए हैं. विश्व की स्थितियों को देखते हुए हमने यूपी में भी अलर्ट जारी किया था. सभी तरीके के सार्वजनिक कार्यक्रमों को हमने स्थगित किया.”

इसके आगे योगी आदित्यनाथ ने कहा, “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत एक लाख 70 हजार करोड़ का सबसे बड़ा पैकेज दिया गया. आजादी के बाद अब तक का सबसे बड़ा पैकेज केंद्र सरकार ने दिया है. जन धन योजना, पेंशन योजना, श्रमिकों के लिए सभी को भत्ता दिया जा रहा है. उज्जवला योजना के तहत लाभार्थियों को मुफ्त सिलेंडर दिए जा रहे हैं. एक करोड़ 33 लाख से ज्यादा परिवारों को राशन पर गेहूं और चावल दिया जा रहा है.”

यूपी कोविड केयर फंड की स्थापना

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ प्रदेश सरकार ने यूपी कोविड केयर फंड की स्थापना की है. जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ समाज के विभिन्न तबकों का इस केयर फंड को व्यापक समर्थन मिल रहा है. सरकार ने तय किया है कि कोविड केयर फंड का उपयोग प्रदेश के अंदर टेस्टिंग सुविधाओं और कोविड हस्पिटल (लेवल-1, लेवल-2 और लेवल-3) की संख्या को बढ़ाने में किया जाए. इसके अलावा कोरोना से लड़ाई में आवश्यक उपकरणों जैसे- पीपीई किट, एन-95 एवं थ्रीलेयर मास्क, वेटिंलेटर और थर्मल एनालाइजर बनाने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार लगातार कार्य कर रही है.

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में 24 सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं. इनमें से 12 मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड किया जा रहा है. इन मेडिकल कलेजों में नई बीएसएल-3 लैब बनाई जा रही है, जहां किसी भी प्रकार के वायरस की जांच के साथ-साथ रिसर्च की भी सुविधा उपलब्ध होगी.

प्रदेश में कोरोना को रोकने के लिए हर स्तर पर भारत सरकार की मदद से प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं. प्रमुख गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि 1551 तबलीगी जमात के लोगों चिंहित किया गया है. 259 के पासपोर्ट जब्त हुए हैं, 10803 एफआईआर धारा 188 के अंतर्गत दर्ज हुई हैं, 17000 वाहन जब्त किए गए हैं और अब तक 11728 कैदियों को छोड़ा गया है. अवनीश अवस्थी ने यह भी कहा कि अगर राज्य में 1 भी कोरोना का केस होगा तो हम लॉकडाउन खोलने की कंडीशन में नही रहेंगे.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts