हदें पार कर रहे करीबी रामवीर उपाध्याय को मायावती ने दिखाया बाहर का रास्ता

बसपा ने साथ ही उन्हें विधानसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक पद से भी हटा दिया है.
BSP supremo mayawati suspends bsp mla ramveer upadhyay%%sitename%%, हदें पार कर रहे करीबी रामवीर उपाध्याय को मायावती ने दिखाया बाहर का रास्ता

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने मंगलवार को पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय को पार्टी से निलंबित कर दिया है. उन्हें लोकसभा चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से बाहर किया गया है.

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम ने यह कार्रवाई की है. बसपा विधायक रामवीर उपाध्याय पर लोकसभा चुनाव में आगरा, फतेहपुर सीकरी, अलीगढ़ समेत कई सीटों पर पार्टी का विरोध करने का आरोप बताया गया है.

पढ़ें, एक्ज़िट पोल्स के बाद अखिलेश-माया की मुलाकात, विपक्षियों की बैठक में दिल्ली नहीं जाएंगी BSP सुप्रीमो

उनके खिलाफ जारी पत्र में हिदायत देते हुए कहा गया है कि वह अब पार्टी के किसी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे और न ही उन्हें इसके लिए आमंत्रित किया जाएगा.
BSP supremo mayawati suspends bsp mla ramveer upadhyay%%sitename%%, हदें पार कर रहे करीबी रामवीर उपाध्याय को मायावती ने दिखाया बाहर का रास्ता

मायावती ने मांगे थे पांच करोड़
बसपा ने पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी सीमा उपाध्याय को फतेहपुर सीकरी से प्रत्याशी बनाया था, लेकिन उन्होंने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था. रामवीर उपाध्याय के भाई मुकुल उपाध्याय पिछले साल बीजेपी में शामिल हुए थे. इस दौरान मुकुल ने आरोप लगाया था कि अलीगढ़ से बसपा का टिकट देने के लिए मायावती ने उनसे पांच करोड़ रुपये मांगे थे.

लम्बे अरसे से रामवीर उपाध्याय के भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करने की बातें चल रही थीं.

Related Posts