मथुरा कोतवाली के बाहर दंपत्ति ने किया आत्मदाह, इंस्पेक्टर समेत तीन सस्पेंड

दंपत्ति का आरोप है कि शिकायत के बावजूद पुलिस दबंगों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठा रही थी. इसलिए यह कदम उठाया.

मथुरा: यूपी के मथुरा से एक दिल को दहला देनेवाली खबर सामने आई है. दबंगों से परेशान दंपत्ति ने मथुरा में कोतवाली के बाहर ही खुद को आत्मदाह कर लिया. 60 फीसदी जली हालत में दोनों को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया है. जहां दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

3 पुलिसकर्मी सस्पेंड

इस मामले में 3 पुलिसवाले पर भी गाज गिरी है. मौके पर आईजी और एसएसपी पहुंचे जिसके बाद इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है. जानकारी के मुताबिक मथुरा के सुरीर थाने में जोगेंद्र और उनकी पत्‍नी लंबे समय से शिकायत लेकर चक्‍कर काट रहे थे.

दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की

गांव के दबंगों के खिलाफ उत्‍पीडन की शिकायत लेकर गई बार पुलिस से गुहार लगाने वाले दंपत्ति की जब नहीं सुनी गई तो परेशान होकर उन्‍होंने आत्‍मदाह की कोशिश की. दंपत्ति का आरोप था कि शिकायत के बावजूद पुलिस दबंगों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठा रही थी.

मारपीट की घटना भी हुई

बता दें कि सुरीर निवासी जोगेंद्र पेशे से मजदूरी हैं. उन्‍होंने पुलिस में कई बार शिकायत दी थी कि गांव का युवक उनके साथ कई महीनों से लगातार मारपीट और गाली-गलौज कर रहा है.

आरोपी धमका-डरा रहे हैं

लेकिन पुलिस थाने में कई बार शिकायत करने के बावजूद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया. रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित दंपत्ति को पुलिस में शिकायत किए करीब 1 साल से भी ज्यादा समय गुजर चुका है. वहीं आरोपी लगातार पीड़ित दंपत्ति को धमका और डरा रहे हैं.

ठोर कार्रवाई की जाएगी

इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- यूपी: जिला अस्पताल से नहीं मिली एंबुलेंस तो बीमार पत्नी को स्ट्रेचर पर लिटाकर भटकता रहा पति