‘मायावती ने अलवर गैंगरेप के बाद राजस्थान सरकार से क्यों वापस नहीं लिया समर्थन’

पीएम मोदी ने कहा कि ये महामिलावटी लोगों ने हमारी संस्कृति, परंपरा, हमारे सवा सौ करोड़ देशवासियों की ताकत इनके नायक राष्ट्र के महापुरुषों की कभी परवाह नहीं की.

लखनऊ: एक ओर देश में छठवें चरण के लिए मतदान हो रहा है, वहीं दूसरी ओर सातवें चरण के लिए तैयारियां हो रही हैं. पीएम मोदी ने कुशीनगर में आज रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने मायावती को आड़े हाथों लिया. पीएम मोदी ने रैली में अलवर गैंगरेप को भी मुद्दा बनाया.

पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें

1- पांच चरण के मतदान हो चुके हैं और विरोधी चारों खाने चित हैं. बौखलाएं हैं, उन्हें समझ नहीं आ रहा कि इस चौकीदार पर लोगों का इतना प्यार क्यों उमड़ रहा है.

2- आज दुनिया में भारत की जो गूंज सुनाई दे रही है, देश इसके लिए भारतीय जनता पार्टी को और मोदी को वोट दे रहा है. आतंक के खिलाफ जो सीधी लड़ाई हम लड़ रहे हैं उसके लिए देश कमल के निशान पर बटन दबा रहा है, मोदी को वोट दे रहा है.

3- भारत को दहलाने वाले आज डर-डर कर जीने को मजबूर हैं. वो डर रहे हैं इसलिए देश की हिम्मत बढ़ रही है और इसलिए देश मोदी को वोट दे रहा है.

4- आज सुबह खबर आयी की कश्मीर में सेना ने कुछ आतंकी मार गिराए. कुछ लोगों को ये परेशानी है कि आज जब मतदान चल रहा है तो मोदी ने आतंकियों को क्यों मारा.

5- राम का नाम लेने वालों को जेल में डालने वालों को लोकतांत्रिक तरीके से सजा मिले इसलिए देश का कोई भी स्थान हो या कोई भी किनारा देश कमल के निशान पर वोट दे रहा है.

6- बेटियों पर अत्याचार करने वाले, राक्षसी प्रवृत्ति के लोगों को सजा देने के लिए आपके इस चौकीदार ने फांसी की सजा का प्रावधान किया है. कांग्रेस सरकार की भी नीयत सही होती तो अलवर में जो हुआ उसे छिपाने में, दबाने में नहीं लगती.

7- भ्रष्टाचार हो, महंगाई हो या 1984 में हजारों सिखों का कत्ल हुआ हो इनका जवाब यही होता है- ‘हुआ तो हुआ’. जिस अहंकार में ये लोग कहते हैं ‘हुआ तो हुआ’ वो इन लोगों ने देश की सरकार मशीनरी का हिस्सा बना दिया.

8- बहन जी आपके साथ गेस्ट हाउस में जो हुआ था उससे सारे देश की बहनों और बेटियों को पीड़ा हुई थी. अगर आप बेटियों की रक्षा के प्रति इतनी ही ईमानदार हैं तो आज ही, इसी समय राजस्थान की कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस ले लीजिए.

9- गरीब को गंदगी में रहने का शौक नहीं होता, वो उसकी मजबूरी होती है. लेकिन इन महामिलावटी लोगों ने कभी इस बारे में नहीं सोचा. मैंने स्वच्छ भारत अभियान चलाया, 10 करोड़ से अधिक शौचालय बनवाए.

10- वंशवाद की बेल पकड़कर ये लोग अब इतना ऊपर चढ़ चुके हैं कि गरीब को तुच्छ मानते हैं. वहीं, मैं गरीबी में पैदा हुआ, गरीबी में बड़ा हुआ और कुम्भ के मेले में गरीबों का पैर धोकर, सफाई कर्मचारी का पैर धोकर खुद को धन्य मानता हूं.

11- हम पूर्वांचल को देश की गैस आधारित अर्थव्यवस्था और कृषि उत्पादों का एक बड़ा हब बनाने के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं.

12- हमारा ये निरंतर प्रयास रहा है कि हम हमारी संस्कृति और हमारी आस्था के केंद्रों का प्रचार प्रसार करें. लेकिन सिर्फ अपना परिवार देखने वाले कांग्रेस और महामिलावटी लोगों ने अपनी संस्कृति, अपनी ताकत, अपने राष्ट्र नायकों की परवाह नहीं की.

13- ये महामिलावटी लोगों ने हमारी संस्कृति, परंपरा, हमारे सवा सौ करोड़ देशवासियों की ताकत इनके नायक राष्ट्र के महापुरुषों की कभी परवाह नहीं की. देशभर में बाबा साहेब आंबेडकर से जुड़े स्थानों को पंच तीर्थ के रूप में विकसित करने का काम आपके इस सेवक ने किया है.