बस पर सियासत: कोटा से लाए गए छात्रों के लिए राजस्‍थान सरकार ने यूपी को भेजा लाखों का बिल

राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) को 36 लाख रूपये से ज्यादा का बिल भेज दिया है. ये बिल तब का है जब कोटा से यूपी के बच्चे आगरा और झांसी तक आए थे.
cm ashok gehlot and CM Yogi Aadityanath, बस पर सियासत: कोटा से लाए गए छात्रों के लिए राजस्‍थान सरकार ने यूपी को भेजा लाखों का बिल

राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) को 3636664 रुपये का बिल भेजा है. दरअसल, लॉकडाउन के दौरान कोटा में फंसे स्टूडेंट्स के लिए यूपी सरकार ने बसें भेजीं थी. लेकिन छात्रों की संख्या ज्यादा होने की वजह से आनन-फानन में राजस्थान राज्य परिवहन निगम से कुछ बसों की मदद ली थी.

cm ashok gehlot and CM Yogi Aadityanath, बस पर सियासत: कोटा से लाए गए छात्रों के लिए राजस्‍थान सरकार ने यूपी को भेजा लाखों का बिल

राजस्थान सरकार ने जो बिल भेजा है उसमें यूपी सरकार ने 1976686 रुपये का RTGS भी कर दिया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

cm ashok gehlot and CM Yogi Aadityanath, बस पर सियासत: कोटा से लाए गए छात्रों के लिए राजस्‍थान सरकार ने यूपी को भेजा लाखों का बिल

इस मामले पर बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट कर कांग्रेस पर निशाना साधा है.

‘यूपी में बसों को लेकर चली सियासत’

उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) में प्रवासी मजदूरों के लिए कांग्रेस (Congress) की तरफ से एक हजार बसें चलाने का मामला जोरों पर रहा.

इस मामले पर पहले यूपी सरकार और प्रियंका गांधी आमने-सामने आ गईं थी. जिसके बाद लेटर वॉर शुरू हो गया था. बसों की लिस्ट जब प्रियंका गांधी ने यूपी सरकार को भेजी तो बीजेपी ने दावा किया कि लिस्ट में कई तीन पहिया वाहनों के नंबर समेत कारों के नंबर शामिल थे.

कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (BJP) के बीच मजदूरों के लिए बस को लेकर विवाद बढ़ता चला गया. वहीं बुधवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) को पुलिस ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

Related Posts