प्रियंका गांधी ने अपने बच्चों को कराई इतिहास की सैर, अचानक आनंद भवन का किया दौरा

प्रियंका गांधी अचानक प्रयागराज के आनंद भवन पहुंची. ज़्यादा हैरत इस चीज़ ने जगाई कि उनके साथ दोनों बच्चे भी थे.
priyanka gandhi, प्रियंका गांधी ने अपने बच्चों को कराई इतिहास की सैर, अचानक आनंद भवन का किया दौरा

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवार को प्रयागराज स्थित स्वराज भवन-आनंद भवन का दौरा किया. इस दौरान उनके साथ दोनों बच्चे भी थे.

दौरा बेहद गोपनीय रखा गया, जिसे पूरा करने के बाद वो अमेठी रवाना हो गईं. करीब चालीस मिनट तक गांधी-वाड्रा परिवार के बच्चे नेहरू-गांधी की विरासत को जानते और समझते रहे. प्रियंका गांधी ने दोनों घरों के बारे में बच्चों को विस्तार से जानकारियां दीं. आपको शायद याद होगा कि लोकसभा चुनाव में प्रचार की शुरूआत भी प्रियंका ने प्रयागराज से ही की थी. वो एक रात के लिए आनंद भवन में ठहरी भी थीं.

priyanka gandhi, प्रियंका गांधी ने अपने बच्चों को कराई इतिहास की सैर, अचानक आनंद भवन का किया दौरा

स्वराज भवन- आनंद भवन नेहरू परिवार का पुश्तैनी घर रहा है. मोतीलाल नेहरू, पंडित जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी का ना सिर्फ यहां से करीबी रिश्ता रहा बल्कि प्रयागराज में उन्होंने अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत भी की. इंदिरा गांधी के दोनों बेटे राजीव और संजय भी स्वराज भवन-आनंद भवन आते रहे हैं और उनके बाद सोनिया गांधी ने भी कई बार इस ऐतिहासिक घर का दौरा किया है. राहुल गांधी का आनाा-जाना भी इस घर में नियमित तौर पर लगा रहा है. फिलहाल इस 42 कमरों वाले विशाल भवन को जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल फंड चला रहा है.

priyanka gandhi, प्रियंका गांधी ने अपने बच्चों को कराई इतिहास की सैर, अचानक आनंद भवन का किया दौरा

आनंद भवन के बारे में जवाहरलाल नेहरू ने 21 जून1954 को अपनी वसीयत में लिखा – ‘ये घर हमारे लिए और अन्य बहुत से लोगों के लिए उस सब कुछ का प्रतीक बन गया जिसे हम जीवन में मूल्यवान मानते हैं. यह एक ईंट और कंक्रीट की इमारत और एक निजी संपत्ति से बहुत मूल्यवान है. ये हमारे स्वतंत्रता संग्राम से बहुत घनिष्ठता से जुड़ा है और इसकी दीवारों के अंदर महान घटनाएं घटी हैं, बहुत महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं.’

प्रियंका गांधी जिस ‘स्वराज भवन’ में ठहरीं उसके इस इतिहास से आप होंगे अनजान

Related Posts