बीजेपी ने गोरखपुर से रवि किशन को मैदान में उतारा, कई सांसदों के टिकट काटे 

2019 के चुनावों के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अलग-अलग सीटों से अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है. इस दौरान कुछ पुराने नेताओं का नाम लिस्ट से हटाया गया है.

लखनऊ: 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने सोमवार को अपनी 21वीं लिस्‍ट जारी कर दी. इसमें 7 प्रत्‍याशियों के नाम शामिल हैं. संत कबीर नगर से इस बार प्रवीण निषाद को टिकट दिया है. ये वही नेता हैं, जो कुछ दिनों पहले ‘ऑपरेशन भारतवर्ष’ के स्टिंग में फंसे थे. प्रवीण निषाद ने गोरखपुर उपचुनाव 2018 में बीजेपी को शिकस्‍त दी थी. निषाद स्टिंग में खुलेआम कालाधन लेने की बात करते दिखाई दिए थे.

2014 लोकसभा चुनाव में संत कबीरनगर सीट से शरद त्रिपाठी को टिकट दिया गया था, लेकिन अपनी ही पार्टी के विधायक को जूते से पीटने के बाद शरद त्रिपाठी का टिकट पार्टी ने काट दिया. हालांकि, इस सूची में शरद त्रिपाठी के पिता रमापति राम त्रिपाठी को देवरिया से टिकट दिया गया है.
बीजेपी ने गोरखपुर सीट से भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्‍टार रवि किशन को मैदान में उतारा है. प्रतापगढ़ से संगम लाल गुप्‍ता, अंबेडकर नगर से मुकुट बिहारी, जौनपुर से केपी सिंह और भदोही  से रमेश बिंद को प्रत्‍याशी बनाया है. बीजेपी की सूची में जिन मौजूदा सांसदों के टिकट काटे गए हैं.  उनमें बांदा सीट से सांसद भैरों प्रसाद मिश्र, करनाल से अश्विनी कुमार, कुरुक्षेत्र लोकसभा सीट से सांसद राजकुमार सैनी, सिरसा से सुनीता दुग्गल, कर्नल सोनाराम, राजसमंद से हारून सिंह, भरतपुर से बहादुर सिंह कोली, झारखंड से राम टहल चौधरी, कोडरमा से रवींद्र कुमार राय के नाम शामिल हैं.
ये भी पढ़ें- ब्‍लैकमनी के ‘प्रवीण’ से बीजेपी को परहेज क्‍यों नहीं?