कभी शादी के दबाव में छोड़ा था घर, अब संजू रानी वर्मा ने पास की यूपी पीसीएस परीक्षा

उत्तर प्रदेश के मेरठ की रहनेवाली संजु रानी वर्मा (Sanju Rani UP PCS exam) शादी से बचने के लिए घर छोड़ दिया था और अब उन्होंने यूपी पीसीएस का एग्जाम पास कर लिया है.
Sanju Rani UP PCS exam, कभी शादी के दबाव में छोड़ा था घर, अब संजू रानी वर्मा ने पास की यूपी पीसीएस परीक्षा

संजु रानी वर्मा…मेरठ की वह लड़की जिसकी घरवाले शादी करवाकर सेटल कर देना चाहते थे, उसने घरवालों का नाम रोशन करनेवाला काम कर दिया है. उत्तर प्रदेश के मेरठ की रहनेवाली संजु रानी वर्मा (Sanju Rani UP PCS exam) शादी से बचने के लिए घर छोड़ दिया था और अब उन्होंने यूपी पीसीएस का एग्जाम पास कर लिया है.

संजु रानी वर्मा जो कुछ समय पहले तक खुद अपने सपनों के लिए लड़ रही थीं, अब वह बड़े सपने देखने वाली लाखों लड़कियों की प्रेरण बन चुकी हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, संजु रानी वर्मा ने सात साल पहले घर छोड़ा था. अब पिछले हफ्ते उनका नाम यूपी पीसीएस एग्‍जाम (2018) में कामयाब छात्रों की लिस्ट में आया है. अब जल्‍द ही संजू कमर्शल टैक्‍स ऑफिसर के रूप में अपना पदभार ग्रहण कर लेंगी.

घरवालों की तरफ से आया था शादी का प्रेशर

साल 2013 की बात है, रानी की उम्र तब 28 की थी. तब उनकी मां का देहांत हो गया. फिर क्या था, घरवालों ने कहा कि कॉलेज की पढ़ाई-लिखाई छोड़ो और शादी कर लो. तब संजू मेरठ के आरजी डिग्री कॉलेज से ग्रैजुएशन कर चुकी थीं और दिल्‍ली यूनिवर्सिटी से पीजी कर रही थीं. इसके बाद उन्होंने सपनों के लिए घर छोड़ना ही ठीक समझा.

पढ़ाई-तैयारी के साथ-साथ नौकरी

संजू बताती हैं कि 2013 में उन्होंने घर छोड़ा साथ ही साथ पीजी कोर्स भी छूट गया था. फिर उन्होने किराये पर कमरा लिया और बच्चों को पढ़ाकर खर्च निकाला, साथ ही साथ प्राइवेट स्कूल में भी पार्ट टाइम टीचर बनीं. लेकिन इस दौरान उन्होंने सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए अपनी तैयारी जारी रखी. यूपी पीसीएस के बाद अब संजू की निगाहें सिविल सेवा परीक्षाओं पर है. वह जिलाधिकारी बनना चाहती हैं.

Related Posts