UP: जांच के घेरे में विकास दुबे के 56 करीबियों की संपत्ति, SIT जुटा रही जानकारी

विकास दुबे (Vikas Dubey) के परिवारजनों, दोस्तो और रिश्तेदारों को मिलाकर कुल 56 लोगों के नाम शामिल हैं. इसमें 18 नाम विकास दुबे के परिवारजनों के हैं.

कानपुर एनकाउंटर (Kanpur Encounter) मामले की जांच कर रही एसआईटी टीम ने नोएडा के तीनों प्राधिकरणों से विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके रिश्तेदारों के नाम पर आवंटित संपत्ति की जानकारी मांगी है.

इनमें विकास दुबे के परिवारजनों, दोस्तो और रिश्तेदारों को मिलाकर कुल 56 लोगों के नाम शामिल हैं. इसमें 18 नाम विकास दुबे के परिवारजनों के हैं. 38 नाम केस में शामिल अन्य लोगों के हैं. विकास दुबे के नाम पर संपत्ति, ठेके जैसी कई मुख्य जानकारी मांगी गई हैं.

परिजन जिनके नाम का ब्यौरा मांगा गया है

  • दादा देवी प्रकाश दुबे
  • रामकुमार दुबे
  • चाचा बृज किशोर दुबे
  • माता सरला दुबे
  • पत्नी ऋचा दुबे
  • भाई अविनाश दुबे
  • चचेरा भाई आशीष दुबे
  • पुत्र आकाश व शान्तनु दुबे
  • बहनोई दिनेश तिवारी व कमलेश तिवारी
  • भांजा अमन तिवारी
  • भाई की पत्नी अंजली दुबे
  • भतीजे रामजी व श्यामजी दुबे
  • बहन चंद्रप्रभा व रेखा
  • साला राजखुल्लर
  • ससुर संकटाप्रसाद

बता दें विकास दुबे को 10 जुलाई की सुबह कानपुर के भौंती में एनकाउंटर में मार दिया गया था. यूपी पुलिस ने दुबे के खिलाफ दर्ज सभी आपराधिक मामलों की सूची सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) को दी है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

SIT ने 9 बिंदुओं पर जांच शुरू की है. ये 9 पॉइंट्स इस प्रकार हैं –

  1. विकास दुबे पर दर्ज मामलों में अबतक क्या कार्रवाई हुई और क्या जितनी कार्रवाई हुई है क्या वो प्रभावी है?
  2. विकास दुबे के खिलाफ आम जनता ने जितनी भी शिकायत की थी, उसपर चौबेपुर थाने की पुलिस और अन्य संबंधित अधिकारियों ने जांच कर कार्रवाई की या नहीं?
  3. विकास दुबे और उसके सहयोगियों के खिलाफ दायर एनएसए, गुंडा ऐक्ट और गैंगस्टर पर क्या कार्रवाई हुई और अगर कार्रवाई में लापरवाही हुई तो किस तरह की लापरवाही हुई है.
  4. विकास दुबे और उसके साथियों का एक साल का सीडीआर निकालकर ये जांच करना कि किन-किन पुलिसकर्मियों ने उससे संपर्क किया. ऐसे पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई.
  5. घटना के दिन जिन हथियारों का प्रयोग हुआ, उनकी क्षमता की जानकारी संबंधित थाने को थी या नहीं. इसकी जांच कर लापरवाही पर कार्रवाई करना.
  6. इतने सारे मामले दर्ज होने के बाद भी विकास दुबे और उसके साथियों के पास लाइसेंस वाले हथियार कैसे रहे. कैसे उसे हथियार मिले, इसकी जांच करना.
  7. विकास दुबे और उसके साथियों की संपत्तियों और आर्थिक गतिविधियों का पता लगाकर पुलिसकर्मियों की संलिप्तता का पता लगाना.
  8. विकास दुबे और उसके साथियों ने क्या सरकारी और गैर सरकारी जमीनों पर कब्जा कर रखा था. अगर हां, तो इसमें कौन-कौन से अधिकारी शामिल थे और उनकी क्या भूमिका है.
  9. कानपुर मामले के अभियुक्त, पुकिसकर्मी और उनके फाइनेंसर्स का पता लगाकर उनकी संपत्तियों की जांच और आय के स्रोत का पता लगाना.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts