“बुआ” शब्द सुनकर आखिर क्यों चिढ़ गए अखिलेश यादव, पत्रकारों को दे दी नसीहत

बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने उपचुनावों में जैसे ही अलग चुनाव लड़ने का ऐलान किया वैसे ही यूपी के इन दो दिग्गजों के बीच फांसले दिखने लगे हैं.
बुआ, “बुआ” शब्द सुनकर आखिर क्यों चिढ़ गए अखिलेश यादव, पत्रकारों को दे दी नसीहत

लखनऊ: लोकसभा चुनाव में वर्षों की दुश्मनी भूलकर एक साथ आने वाली समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की राहें एक बार फिर अलग होती दिख रही है. लोकसभा चुनावों में हर सभा में जहां इन दो दलों के प्रमुखों की जोड़ी को बुआ-भतीजा कह कर पुकारा जाने लगा था वह शब्द अब इन नेताओं को चुभने लगे हैं.

दरअसल बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने उपचुनावों में जैसे ही अलग चुनाव लड़ने का ऐलान किया वैसे ही यूपी के इन दो दिग्गजों के बीच फांसले दिखने लगे हैं. इसकी बानगी पेश की सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने. जब मंगलवार को यूपी के गाजीपुर में अखिलेश से पत्रकारों ने सवाल करते वक्त बुआ शब्द का जिक्र किया तो वह नाराज हो गए.

सपा प्रमुख जिस बात पर पहले मुस्कुरा कर जवाब देते थे वह नाराजगी जताते हुए पत्रकारों से कहने लगे कि उन्हें ऐसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. अखिलेश गाजीपुर के सलारपुर गांव में जिला पंचायत सदस्य विजय यादव को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे. इसके बाद उन्होंने पत्राकारों से बातचीत की.

पत्रकारों ने जब मायावती को लेकर सवाल करते हुए बुआ शब्द का जिक्र किया तो अखिलेश ने उन्हें नसीहत देते हुए कहा कि “आपको ऐसी बात नहीं करनी चाहिए, आप पत्रकार हैं.” मालूम हो कि गठबंधन का रास्ता छोड़ कर बीएसपी प्रमुख मायावती ने अकेले ही चुनाव लड़ने का ऐलान किया है.

ये भी पढ़ें: कोर्ट ने रॉबर्ट वाड्रा को विदेश जाने की दी इजाजत, तो जमानत रद्द कराने की तैयारी में जुटी ED

Related Posts