बेटे के फर्जी दस्‍तावेज मामले पर सफाई में आजम खान ने क्‍यों लिया लादेन और दाऊद का नाम?

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान ने बेटे अब्‍दुल्‍ला के फर्जी दस्‍तावेज मामले पर सफाई दी है.

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान ने बेटे अब्‍दुल्‍ला आजम खान के फर्जी दस्‍तावेज मामले पर सफाई दी है. उन्‍होंने कहा कि पासपोर्ट में एक गलती का मतलब यह नहीं कि उनके बेटे का संबंध ओसामा बिन लादेन से है. दो जन्‍मतिथि के मामले में अब्‍दुल्‍ला के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है.

आजम खान ने कहा कि उनके बेटे के पासपोर्ट में कोई जालसाजी या धोखाधड़ी नहीं है. पासपोर्ट में एक गलती से हम दाऊद या लादेन नहीं बन जाते. उन्होंने कहा कि अब्दुल्ला ने कोई अपराध नहीं किया है. बरेली के पासपोर्ट अधिकारी ने बाद में गलती ठीक कर दी थी. हम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे हैं.

आजम खान ने कहा, ‘जब अब्दुल्ला का लखनऊ स्थित केजीएमसी में जन्म हुआ तो मेरी पत्नी की हालत बहुत नाजुक थी. उसके बचने की संभावना बहुत कम थी. हम उसी भागमभाग में लगे थे और हमें बाद में पता चला कि सिविक अथॉरिटी में नवजात शिशुओं के जन्म के बारे में जानकारी देने का काम केजीएमसी का था. रामपुर सिविक अथॉरिटी में जो दिन रजिस्टर हुआ, वह लखनऊ वाली तिथि से अलग था. केजीएमसी ने सभी जानकारियों को रजिस्टर कर लिया था. अब मामला हाई कोर्ट में है.

बीजेपी नेता ने लगाया आजम खान के बेटे पर आरोप

रामपुर के सिविल लाइंस थाने में बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने अब्‍दुल्‍ला के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. उन्‍होंने आरोप लगाया कि अब्दुल्ला ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर पासपोर्ट बनवाया. अब्दुल्ला आजम रामपुर जिले की स्वार विधानसभा सीट से विधायक हैं. आरोप है कि अब्‍दुल्‍ला के के शैक्षणिकक प्रमाणपत्रों हाई स्कूल, बीटेक और एमटेक में जन्मतिथि 1 जनवरी, 1993 अंकित है, जबकि पासपोर्ट में 30 सितंबर, 1990 दर्ज है.

शांति भंग करने के मामले में अब्‍दुल्‍ला हुए गिरफ्तार

बेटे के फर्जी दस्‍तावेज मामले के अलावा आजम खान जौहर यूनिवर्सिटी की जमीन के विवाद से भी परेशान हैं. जौहर यूनिवर्सिटी में सर्च अभियान चला रही पुलिस ने बुधवार को
आजम खां के बेटे विधायक अब्दुल्ला को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था. हालांकि, छह घंटे पुलिस लाइन में रखने के बाद शाम को निजी मुचलके पर छोड़ दिया.