रामलला के दर्शन करेंगे राष्ट्रमंडल देशों के प्रतिनिधि, SC के फैसले के बाद अयोध्या आने वाला पहला अंतरराष्ट्रीय दल

यह सम्मेलन देश की लोकसभा की ओर से आयोजित किया जा रहा है. यूपी विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे को इसका सचिव बनाया गया है.
Speaker Chairman of various states, रामलला के दर्शन करेंगे राष्ट्रमंडल देशों के प्रतिनिधि, SC के फैसले के बाद अयोध्या आने वाला पहला अंतरराष्ट्रीय दल

राष्ट्रमंडल देशों के प्रतिनिधियों के साथ विभिन्न राज्यों के स्पीकर व सभापति 18 जनवरी को अयोध्या का भ्रमण करने जाएंगे. इस दौरान ये लोग रामलला के भी दर्शन करेंगे. राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या जाने वाला यह पहला अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल होगा.

राष्ट्रमंडल देशों के भारतीय ससंदीय प्रतिनिधियों का सम्मेलन 16 से 19 जनवरी के बीच लखनऊ में होने जा रहा है. सम्मेलन की अध्यक्षता लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला को सौंपी गई है. सम्मेलन में राज्यसभा के उपसभापति भी शामिल होने वाले हैं.

सम्मेलन में सभी राज्यों की विधानसभाओं के प्रतिनिधियों के अलावा राष्ट्रमंडल देशों के सभी 7 अन्य क्षेत्रीय समितियों के 2 या 3 संसदीय प्रतिनिधियों को ‘आब्जर्बर’ के तौर पर शामिल किया जाएगा.

यह सम्मेलन देश की लोकसभा की ओर से आयोजित किया जा रहा है. यूपी विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे को इसका सचिव बनाया गया है. सम्मेलन में देश के राज्यों के विधानसभाओं के अध्यक्ष व विधान परिषदों के सभापति व सचिव भी हिस्सा ले रहे हैं. लोकसभा व राज्यसभा के 25-25 सदस्यों की टीम भी होगी.

दूसरी तरफ, राम की नगरी अयोध्या को प्रमुख तीर्थ स्थलों से जोड़ने की कवायद चल रही है. इसके लिए पर्यटन विभाग ने रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर सुझाव मांगे हैं.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर बनाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं. राम मंदिर के अलावा अयोध्या में जल्द करोड़ों रुपये की पर्यटन की परियोजनाएं शुरू होंगी.

पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव जितेंद्र कुमार ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव को पत्र लिखकर अयोध्या के विकास के लिए सुझाव मांगे हैं. साथ ही रेलवे स्टेशन के विकास और रेल संपर्क बढ़ाने के लिए उचित कार्यवाई करने का निवेदन किया है.

ये भी पढ़ें-

JNU हिंसा पर पहली बार बोले अजय देवगन, कही ये बड़ी बात

रेप पीड़‍िता ने अस्‍पताल में तोड़ा दम, परिवार नहीं आया तो यूपी पुलिस ने किया अंतिम संस्‍कार

Related Posts