two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!
two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!

जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!

यूपी में एक युवक ने SSP से कहा "मैं एक दिन में ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त कर दूंगा." युवक का इतना कहना था कि SSP ने उसे तुरंत 'ट्रैफिक सीओ' नियुक्त कर दिया.
two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!

हिंदी फिल्म ‘नायक’ तो आपको याद ही होगा. फिल्म में एक दिन के मुख्यमंत्री अनिल कपूर ने ताबड़तोड़ कार्रवाई कर कानून का राज कायम किया था. ठीक उसी प्रकार का नजारा मंगलवार को फिरोजाबाद जिले के टूंडला कस्बे में देखने को मिला, जब यातायात अव्यवस्था की फरियाद लेकर पहुंचे युवक को ही SSP ने दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’ बना दिया.

हुआ कुछ यूं कि मंगलवार को टूंडला तहसील परिसर में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में अलाबलपुर का युवक सोनू चौहान (28) अक्सर सड़क पर लगने वाले जाम से छुटकारा दिलाने की फरियाद लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश हुआ. उसने अपनी शिकायत में कहा, “आड़ा-तिरछा खड़े हो रहे वाहनों से जाम लग जाता है और एंबुलेंस तक नहीं गुजर पाती.”

इस पर SSP सचिंद्र पटेल ने कहा, “यदि ट्रैफिक संभालने की जिम्मेदारी तुम्हें दे दी जाए तो तुम क्या करोगे?” युवक ने पहले तो अपने सुझाव दिए, फिर कहा, “मैं एक दिन में व्यवस्था दुरुस्त कर दूंगा.”

युवक का इतना कहना था कि SSP ने उसे तुरंत दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’ नियुक्त कर मातहतों को दो घंटे तक युवक के सभी आदेश मानने का हुक्म सुना दिया.

बस, युवक पुलिस की जीप में बतौर यातायात उपाधीक्षक (सीओ) सवार हुआ और कोतवाल व अन्य उपनिरीक्षकों के साथ सुभाष चौराहा पहुंचकर उसने फिल्म ‘नायक’ के एक दिन के मुख्यमंत्री अनिल कपूर की तरह ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू कर दी. आगरा से एटा जाने वाली बसों को सड़क से बस स्टैंड के अंदर करवाया और दोनों ओर लगे ठेलों और रेहड़ी को व्यवस्थित कर दो घंटे के कार्यकाल में चरमराई यातायात व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त कर दी. इस बीच यातायात नियम तोड़ने वाले आधा दर्जन से ज्यादा वाहनों का चालान भी काटा गया.

फिरोजाबाद के SSP सचिंद्र पटेल ने बुधवार को कहा, “सोनू ने दो घंटे में वह कर दिखाया, जो हमारी यातायात पुलिस नहीं कर पाई. अब पुलिस में सोनू की कार्यक्षमता की छाप उतारी जाएगी और उससे मिले तजुर्बे के अनुसार यातायात व्यवस्था दुरुस्त रखी जाएगी.”

इस बारे में सोनू का कहना है कि अपने दो घंटे के कार्यकाल में उसने यातायात नियमों का कड़ाई से पालन करवाया है, और यदि पुलिस नियमों को ईमानदारी से लागू करे तो जाम लगने का सवाल ही नहीं उठता.

two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!
two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!

Related Posts

two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!
two hour traffic CO, जब SSP ने फरियादी को बना दिया दो घंटे का ‘ट्रैफिक सीओ’!