BHU: फिरोज खान का समर्थक बताकर छात्रों ने दलित प्रोफेसर को दौड़ाया

प्रोफेसर शांतिलाल सालवी का आरोप है कि छात्रों ने गालियां दीं और आधा किलोमीटर तक दौड़ाया.

Banaras Hindu University (बीएचयू) के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में डॉक्टर फिरोज खान की नियुक्ति पर छात्रों ने एक महीने से ज्यादा विरोध किया. फिलहाल फिरोज खान ने वह संकाय छोड़कर कला संकाय में संस्कृत विभाग जॉइन कर लिया है. सोमवार को छात्रों ने फिरोज खान का समर्थक बताकर दलित सहायक प्रोफेसर शांतिलाल सालवी को दौड़ा लिया.

सोमवार को छात्रों ने संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान (एसवीडीवी) में मंगलवार से होने वाली परीक्षा का बहिष्कार करते हुए संकाय में कामकाज बंद करा दिया. जिस समय आंदोलनरत छात्र संकाय बंद करा रहे थे, उसी समय विभागाध्यक्ष उमाकांत के साथ शांतिलाल सालवी बाहर निकल रहे थे. आंदोलनरत छात्रों ने उन्हें फिरोज समर्थक बताते हुए गालियां दी और मारने के लिए दौड़ा लिया.

किसी तरह जान बचाकर भागे प्रोफेसर शांतिलाल सालवी का कहना है ‘विभाग जाते समय सैकड़ों छात्रों ने मझे दौड़ा लिया था. मुझ पर फेसबुक के जरिए अभद्र कमेंट करने वाले कुछ बाहरी लड़के भी थे. वे हाथों में पत्थर लिए हुए थे. मुझे डान बचाकर भागना पड़ा. जिन छात्रों को मैंने पढ़ाया, वही मुझे डॉक्टर फिरोज का समर्थक बताकर हमला कर देंगे ऐसा नहीं सोचा था. कुलपति से शिकायत करने के बाद लंका थाने में इन छात्रों के खिलाफ शिकायत करूंगा.’

आंदोलन कर रहे छात्रों ने इसे अफवाह बताया है. छात्रों के मुताबिक किसी प्रोफेसर पर इस तरह का हमला नहीं किया गया है. छात्र शशिकांत ने कहा कि एक महीना दो दिन से संकाय में आंदोलन चल रहा है लेकिन बीएचयू प्रशासन ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया है. छात्रों को गुमराह किया जा रहा है, परीक्षा का समय है. विश्वविद्यालय प्रशासन इसे नजरअंदाज कर रहा है.

ये भी पढ़ें:

BHU: फिरोज खान ने छोड़ा संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय, कला संकाय में पढ़ाएंगे संस्कृत
नाजिम के लाए फूलों से सजते हैं अयोध्या के रामलला