‘अचानक चारों तरफ से होने लगी थी फायरिंग’, बिठूर के घायल SO ने सुनाई Kanpur Encounter की कहानी

बिठूर के SO, जो खुद उस एनकाउंटर (Kanpur Encounter) के दौरान वहां मौजूद थे. उन्होंने अपना बयान दिया है. उन्होंने बताय कि SO चौबेपुर ने सूचना दी थी कि एक दबिश में चलना है.
Kanpur Encounter Sudden firing from all around, ‘अचानक चारों तरफ से होने लगी थी फायरिंग’, बिठूर के घायल SO ने सुनाई Kanpur Encounter की कहानी

कानपुर एनकाउंटर (Kanpur Encounter) में 8 पुलिसवालों के शहीद हो जाने के बाद इस मामले हर नए-नए खुलासे हो रहे हैं. इसी कड़ी अब सामने आया है कि एनकाउंटर की उस रात पुलिस की टीम पर विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके गुंडों ने किस तरह से हमला किया और क्यों आखिर इतने पुलिसकर्मियों की जान गई.

दरअसल बिठूर के SO, जो खुद उस एनकाउंटर के दौरान वहां मौजूद थे उन्होंने अपना बयान दिया है. उन्होंने बताया कि SO चौबेपुर ने सूचना दी थी कि एक दबिश में चलना है. इसके बाद हम करीब रात 12:30 बजे निकले और एक बजे गांव में पहुंचे.

100-150 मीटर दूर पार्क की पुलिस ने अपनी गाड़ियां

गांव पहुंचने पर हमने अपनी गाड़ियां विकास दुबे के घर से करीब 100-150 दूर पर ही पार्क कर दी थीं और टीम पैदल ही उसके घर की तरफ बढ़ी. उसके घर के बाहर एक JCB मशीन खड़ी थी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

अचानक चारों तरफ से शुरू हई फायरिंग

उन्होंने बताया कि जैसे ही हम JCB से आगे निकले तुरंत हमार ऊपर चारों तरफ से फायरिंग शुरू हो गई. हमने तुरंत कुछ जगह ढूंढी और आड़ लेकर छिपने का प्रयास किया. आड़ मिलने के बाद हमने भी फायरिंग शुरू की, लेकिन हमें कुछ दिख नहीं रहा था.

‘हम नीचे थे और वो लोग ऊपर कुछ दिखाई नहीं दिया’

एसओ ने कहा कि हम नीचे थे और वो लोग ऊपर, इसलिए हमें कुछ दिख नहीं रहा था. साथ ही हमारे कई साथी घायल भी हो चुके थे. उन्होंने कहा कि मेरे साथियों को मैंने बचाने का सोचा औए 2 साथियों को मैं बचने में कामयाब भी रहा, लेकिन हमारे बाकी साथी घायल थे.

‘हमारी हर मूवमेंट ऊपर से दिख रही थी’

उन्होंने बताया कि हमारी हर मूवमेंट ऊपर से देखी जा सकती थी पर हम कुछ नहीं देख पा रहे थे. इसलिए हमारे इतने साथी मारे गए.

विकास दुबे के घर से मिला हथियारों का जखीरा

वहीं कानपुर के एसपी देहात बीके श्रीवास्तव ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के घर से हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है. पुलिस ने उसके घर के बंकर से करीब दो किलो विस्फोटक बरामद किया है.

घर को बम से उड़ाकर पुलिस को पहुंचाना था नुकसान

साथ ही पुलिस को घर के बंकर से 6 तमंचे और 25 कारतूस भी मिले हैं. इसके अलावा घर के अंदर से भारी मात्रा में बम बनाने का सामान और बड़ी मात्रा में कील बरामद हुई हैं. पुलिस के मुताबिक विकास दुबे घर को बम से उड़ाकर पुलिस को ज्यादा नुकसान पहुंचाना चाहता था.

SSP बोले, पुलिस की मदद के लिए कटवाई बिजली

एनकाउंटर के दौरान बिजली बिकरु गांव की बजली कटवाने के मामले पर SSP ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पुलिस की मदद के लिए फोन कर गांव की बिजली कटवाई गई थी. एससपी ने कहा कि बदमाश रोशनी में पुलिस को आसानी से निशाना बना रहे थे. इसलिए पुलिस ने हमले के बाद बिजली कटवाई थी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts