उन्‍नाव गैंगरेप पीड़िता जिस ट्रॉमा सेंटर में भर्ती, वहां घुसा संदिग्‍ध

खबर मिलते ही पुलिसकर्मी हरकत में आए और बिना देरी किए उस शख्स को गिरफ्त में ले लिया.


नई दिल्ली: उन्नाव गैंगरेप पीड़िता लखनऊ के जिस ट्रॉमा सेंटर में भर्ती है, वहां सोमवार रात एक संदिग्ध घुस गया. खबर मिलते ही पुलिसकर्मी हरकत में आए और बिना देरी किए उस शख्स को गिरफ्त में ले लिया. पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद बताया कि संदिग्ध शख्स शराब के नशे में पाया गया.

रविवार को उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता की कार को ट्रक ने रायबरेली में टक्कर मार दी थी, इस हादसे में पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई, जबकि वकील और पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गए. सोमवार को पीड़िता के परिवार ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कराई, जिसमें बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत दस लोगों को नामजद कराया, जबकि 15 से 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी केस दर्ज कराया गया है.

पीड़ित परिवार का दावा है कि गैंगरेप मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के इशारे पर इस हादसे को अंजाम दिया गया, जिसका मकसद पीड़िता की हत्या करना था. हादसे में पीड़िता तो बच गई लेकिन उसकी चाची और मौसी की मौत हो गई.

आइए इन दस प्वाइंट्स में जानते हैं कि उन्नाव गैंगरेप मामले में कब क्या हुआ-

1. उन्नाव गैंगरेप मामला पिछले साल(2018) उस वक्त सुर्खियों में आया था जब पीड़िता ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर न्याय के लिए प्रदर्शन किया.

2. पीड़िता ने आरोप लगाया कि साल 2017 में नौकरी के लिए जब वह भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर के घर गई थी तो उसके साथ बलात्कार किया गया था.

3. पीड़िता ने अप्रैल 2018 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के घर के बाहर खुद को आग लगाने की कोशिश की.

4. पीड़िता के पिता उसका केस लड़ रहे थे. कथित रूप से कुलदीप सेंगर के भाई द्वारा गंभीर रूप से पिटाई के बाद पिता की मौत हो गई.

5. पुलिस ने पीड़िता के पिता पर आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था और दो दिनों तक हिरासत में रखा था.

6. इस मामले की सीबीआई जांच शुरू हुई जो अभी भी चल रही है.

7. कुछ समय बाद पीड़िता के चाचा महेश को एक दूसरे मामले में जेल भेज दिया गया. वो रायबरेली जेल में बंद हैं.

8. पीड़िता रविवार को अपने परिवारवालों और वकील के साथ रायबरेली जेल चाचा से मिलने गई थी. जेल से लौटते समय उसकी कार और ट्रक में भिड़ंत हो गई.

9. हादसे में पीड़िता और वकील गंभीर रूप से घायल हैं. वहीं, पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई है.

10. इस हादसे को लेकर कई तरह के गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं. विपक्षी पार्टियां हादसे में हत्या की आशंका जता रही हैं.

ये भी पढ़ें-

उन्नाव गैंगरेप: कपड़ों की तरह पार्टी बदलते हैं बाहुबली विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, पढ़ें Profile

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की चाची-मौसी की मौत, MLA सेंगर समेत 25 के खिलाफ हत्या की FIR

उन्नाव गैंगरेप: ऋचा चड्ढा ने लिखा, ‘कुलदीप सेंगर को बद्दुआएं दो, अंत में वही काम करती हैं’