यूपी के बलरामपुर में झाड़ियों से मिले पांच हजार से ज्यादा गैस सिलेंडर, मचा हड़कंप

मामले में पचपेड़वा थाने में गैस एजेंसी संचालक सहित पांच लोगों पर केस दर्ज करा दिया गया है.

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में झाड़ियों से पांच हजार से ज्यादा रसोई गैस सिलेंडर बरामद किए गए हैं. जिले के पचपेड़वा क्षेत्र में चल रही भार्गव गैस एजेंसी ने लाभार्थियों को उज्जवला योजना से जुड़े गैस सिलेंडर न बांटकर उसे झाड़ियों में छिपा रखा था.

सूचना के बाद जिला प्रशासन की टीम ने करीब 5000 सिलेंडर बरामद किए हैं. इनके साथ सैकड़ों की संख्या में रेगुलेटर भी बरामद हुए हैं. दो दिन चली जांच के बाद डीएम के आदेश पर एजेंसी मालिक समेत पांच लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

प्रशासन ने जप्त किए सिलेंडर
इसकी जानकारी मीडिया के माध्यम से मिलने पर जिला प्रशासन की टीम ने मौके का निरीक्षण किया और वहां मौजूद करीब सभी सिलेंडर को जप्त कर लिये. दो दिन चली जांच में सिलेंडरों की कुल संख्या 4912 सामने आई है. इसके साथ ही साथ सैकड़ों की संख्या में रेगुलेटर भी बरामद हुए हैं.

पूछताछ के दौरान गैस एजेंसी संचालक द्वारा कोई स्पष्ट जवाब नहीं मिला. इस पर डीएम के आदेश पर जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा पचपेड़वा थाने में गैस एजेंसी संचालक सहित पांच लोगों पर केस दर्ज करा दिया गया है.

पूरे मामले में डीएम ने बताया कि 3 से 4 दिन पहले ज्यादा मात्रा में सिलेंडर छिपाकर रखे जाने की सूचना मीडिया के माध्यम से मिली थी. पता चला कि यह सिलेंडर भार्गव गैस एजेंसी के हैं, कुछ सिलेंडर घर के पीछे तो कुछ झाड़ियों में छिपाकर रखे गए थे.

4,912 सिलेंडर हुए हैं बरामद
जांच के दौरान कुल 4,912 सिलेंडर बरामद हुए हैं. इस संबंध में एजेंसी संचालक से पूछताछ की गई तो उसके द्वारा बताया गया कि कुछ दिन पहले उसके ऑफिस में आग लग गई थी जिसके कारण वह अभिलेख दिखाने की स्थिति में नहीं है.

वहीं, भार्गव इंडियन ग्रामीण वितरक के प्रतिनिधि की ओर से बताया गया कि एजेंसी के नाम पर जितने सिलेंडर आवंटित किए गए थे अवशेष उतने ही मिले हैं. एजेंसी संचालक के विरुद्ध 3/7 की धारा में मुकदमा दर्ज करा दिया गया. साथ ही अन्य अवशेषों की जांच कराई जा रही है.

ये भी पढ़ें-

पीएम मोदी के इस अहम मिशन को पूरा करेंगे अजीत डोभाल, पाकिस्तान भुगतेगा नतीजा

जयराम रमेश के बाद सिंघवी के भी सुर बदले, कहा- एकतरफा विरोध से मोदी को फायदा

बाहुबली विधायक अनंत सिंह सरेंडर करने पहुंचे, 17 अगस्त से चल रहे थे फरार