Coronavirus: यूपी के इन तीन जिलों में अब नहीं COVID-19 केस, राज्य के हालात पर पढ़ें ये अपडेट

यूपी के गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि 49 जिलों में 846 कोरोना संक्रमित (Corona Positive) हैं. 74 लोग ठीक हो चुके हैं. वहीं 3 जिलों में एक्टिव केस नहीं है.

File Pic

उत्तर प्रदेश के गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने राज्या में कोरोना वायरस के हालात पर शुक्रवार को नई जानकारियां दी हैं. उन्होंने बताया, ‘सीएम योगी ने कहा है कि प्रदेश में कोई भी भूखा न रहे. उन्होंने निर्देश दिए हैं कि 30 जून तक हर जरूरतमंद को राशन अवश्य उपलब्ध कराया जाए.’

उन्होंने बताया कि 49 जिलों में 846 कोरोना संक्रमित हैं. 74 लोग ठीक हो चुके हैं. 3 जिले में एक्टिव केस नहीं है इनमें पीलीभीत, हाथरस और महराजगंज जिला शामिल है.

राज्य के हालात पर पढ़ें ये मुख्य बातें-

  • गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि 13484 कैदी को बेल या पैरोल पर छोड़े गए हैं. 425 बच्चों को जुवेनाइल होम से छोड़ा गया है.
  • फेक न्यूज पर प्रभावी अंकुश लगाने हेतु अब तक 375 मामलों को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई की गई है.
  • धारा 188 के तहत 20,453 FIR दर्ज करते हुए 62,811 लोगों को नामजद किया गया है. चूंकि इस समय लाॅकडाउन की कार्रवाई चल रही है इसलिए बेल भी दी गई है जिससे कि जेलों में अधिक संख्या में लोग न रहें.
  • अब तक 18,48,143 वाहनों की चेकिंग की गई है और 24,667 वाहन सीज किए गए हैं. अब तक ₹8,11,80,456 का शमन शुल्क वसूल किया गया है.
    आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 1,60,110 वाहनों के परमिट जारी किए गए हैं. कालाबाजारी एवं जमाखोरी के खिलाफ 435 FIR दर्ज करते हुए 549 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.
  • हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में कुल 166 सामुदायिक किचन खोले गए हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

  • निराश्रित व्यक्ति की मृत्यु होने पर शासन द्वारा अनुमन्य राशि से दिवंगत का अंतिम संस्कार कराए जाने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिए हैं.
  • मुख्यमंत्री ने कहा है कि ग्रामीण व नगरीय क्षेत्रों में नालों की सफाई, मार्ग निर्माण व अन्य परियोजनाओं से जुड़े टेंडर जो ऑनलाइन किए जाते हैं, वे लाॅकडाउन समाप्ति के तुरंत बाद शुरू किए जाएं.
  • मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में छात्र-छात्राओं के लिए चलाए गए ऑनलाइन कोर्सेज का मजबूती से रिव्यू किया जाए ताकि व्यवस्थाएं बेहतर ढंग से संचालित होती रहें.
  • मुख्यमंत्री ने मेडिकल काॅलेजों में स्थित COVID19 टेस्टिंग लैब के विभागाध्यक्षों, प्रधानाचार्यों और निदेशकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर समीक्षा की एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं.
  • पीपीई किट की खराब क्वालिटी का जो मामला है वो सप्लाई बहुत पहले हुई थी और जो 100 रु के थे इस मामले में पीएस चिक्तिसा और पीएस चिकित्सा शिक्षा को जांच के लिए कहा गया है. आज 1000 रु की दर से पीपीई किट खरीदी जा रही है.
  • उद्योग क्षेत्र में अब तक 512 करोड़ रु 34309 इकाइयों ने अपने कर्मचारियों ने बांटा है. 6442 इकाइयों को चालू कर दिया गया है. 21 लाख श्रमिकों को 1000 रुपये से ज्यादा दिया गया है.

259 विदेशियों के पासपोर्ट जब्त

उत्तर प्रदेश के डीजीपी हितेश अवस्थी के निर्देश के बाद यूपी पुलिस धार्मिक स्थलों पर जाकर लोगो से बातचीत कर रही है कि उनके यहां कोई भी जमात से जुड़ा हुआ व्यक्ति या उनके सम्पर्क में आया हुआ व्यक्ति तो नही हैं.

इसी कड़ी में राजधानी लखनऊ के चिन्हित इलाके में दरगाह हज़रत सैयद शहीद मीरा पहलवान रहमतुल्ला अलैह मस्जिद सहित और भी आस पास की मस्जिदों की तलाश ली गई और मौलानाओ से बात कर के पूछा कि कोई बाहर का व्यक्ति उनके यहां आकर तो नही रुका है.

उन्होंने बताया कि हर हॉट स्पॉट का जिले के अफसरों ने विजिट किया है. सख्ती से कार्यवाही की जा रही है. डोर से डोर सेनेटाइज का काम किया जा रहा है. डोर टू डोर डिलीवरी पर हमारा जोर है. तबलीगी जमात के विदेशी लोगों पर 45 FIR दर्ज की गई हैं. 259 के पासपोर्ट जब्त किए गए हैं. उन्हे अस्थायी और स्थायी जेल में रखे जाने की व्यवस्था की गई है.

नोटों को सैनेटाइज करने का भेजा प्रस्ताव

एटीएम से निकलने वाले नोटों को सैनिटाइज कराने का प्रस्ताव आरबीआई और एसबीआई को लखनऊ पुलिस ने भेजा है.  जेसीपी लॉ एंड ऑर्डर ने आरबीआई को नोट को सैनिटाइज करने के लिए कहा है. हाल ही में महानगर से लेकर तालकटोरा सहादतगंज में लावारिस नोट मिलने से नोटो के जरिये संक्रमण की अफवाह फैली थी.

वाराणसी में बढ़े 5 नए मरीज

वाराणसी में BHU से मिले सैंपल में 5 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है. नक्की घाट नया हॉट स्पॉट और बफर जोन बनाया जा रहा है, वाराणसी में अब कुल 14 कोरोना वायरस मरीज हो गए हैं.

केजीएमयू से डॉक्टर्स की टीम जाएगी आगरा

डॉ. सूर्यकांत और डॉ विवेक कुमार आगरा जाएंगे. कोरोना के बड़ी संख्या में पेशेंट मिलने के बाद ये फैसला लिया गया है. केजीएमयू की टीम आगरा में कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण पाने की कोशिश करेगी.

Related Posts