VIDEO: गाड़ी का चालान कटा तो रोने लगे BJP नेता, पुलिस अधिकारी के छुए पैर

चालान काटने के बाद अनिल सिंह और एएसपी सिटी प्रकाश स्वरूप पांडेय में कहासुनी हो गई. अनिल सिंह पुलिस पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए वहीं धरने पर बैठ गए.

मिर्जापुर: यूपी के मिर्जापुर में चालान काटने के बाद पुलिस के कथित दुर्व्‍यहार के खिलाफ रविवार को बीजेपी के पूर्व जिलाध्‍यक्ष और काशी क्षेत्र के मंत्री अनिल सिंह धरने पर बैठ गए. मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक अवधेश पांडेय के सामने अनिल सिंह फूट-फूटकर रोने लगे और पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए.

यही नहीं अनिल सिंह एसपी अवधेश पांडेय के पैरों पर गिर पड़े. पुलिस अधीक्षक अवधेश पांडेय के सामने रोने लगे. यह घटना शहर के कोतवाली इलाके में घटी.

दरअसल पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही थी इसी दौरान सांसद रामसकल के घर से लौट रहे बीजेपी के पूर्व जिलाअध्यक्ष और काशी प्रांत के मंत्री अनिल सिंह को पुलिस ने उनकी गाड़ी के साथ रोक लिया. गाड़ी के कागजात नहीं होने पर पुलिस ने उनका चालान काट दिया.

चालान काटने के बाद अनिल सिंह और एएसपी सिटी प्रकाश स्वरूप पांडेय में कहासुनी हो गई. अनिल सिंह पुलिस पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए वहीं धरने पर बैठ गए.सूचना पर बीजेपी नेताओं का जमावड़ा लग गया. एसपी अवधेश पांडेय भी मौके पर पहुंचे.

एसपी को देखकर अनिल सिंह फूट-फूटकर रोने लगे और उनके पैरों पर गिर पड़े. अनिल सिंह ने आरोप लगाया कि वह बाइक से जरुरी काम से भटौली जा रहे थे. पुलिस के रोकने पर हेल्‍मेट न होने पर 500 का चालान कराकर समन शुल्क जमा किया.

उन्‍होंने बताया कि एएसपी सिटी ने सत्ता में होने के कारण नियम कानून पालन करने की बात कहने लगे जबकि वह खुद बिना वर्दी में वाहन चेकिंग अभियान चला रहे थे. बिना वर्दी में वाहन चेकिंग करने की बात कहने पर उन्‍होंने दुर्व्यवहार किया.

उधर, इस संबंध एएसपी सिटी प्रकाश ने बताया कि हादसों को रोकने के लिए वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. बीजेपी नेता अनिल सिंह के साथ कोई दुर्व्यवहार नहीं किया गया. हेल्‍मेट न होने पर उनका चालान किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *