यूपी के बलरामपुर में दर्दनाक हादसा, स्कूल में हाई टेंशन तार गिरने से 55 बच्चों को लगा करंट

सोमवार सुबह अचानक हाईवोल्ट करंट विद्यालय भवन में फैल गया. सभी छात्र कमरे के बाहर चप्पल उतारकर टाटपट्टी व बोरे पर बैठे थे. शरीर में झनझनाहट महसूस होने पर विद्यालय में भगदड़ मच गई.

बलरामपुर: यूपी के बलरामपुर में प्राथमिक स्कूल पर हाई टेंशन तार गिरने से क़रीब 55 बच्चों को करंट लगा है. सभी बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है. 6 बच्चों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

जानकारी के मुताबिक 11000 केवीए का तार स्कूल पर गिर गया. इस घटना में घायल कुछ बच्चों का इलाज साजिदा हॉस्पिटल में भी चल रहा है. यह घटना उतरौला के प्राथमिक विद्यालय नयानगर में हुई.

जानकारी के मुताबिक यहां करीब 110 छात्र पंजीकृत हैं. सोमवार को लगभग 60 छात्र विद्यालय पढ़ने आए थे. विद्यालय परिसर में वर्षा का पानी भरा हुआ है. विद्यालय भवन के ठीक पीछे आम, शीशम व यूकेलिप्टस के पेड़ लगे हैं. पेड़ों को छूते हुए नयानगर को बिजली आपूर्ति करने वाली हाईटेंशन लाइन निकली है.

सोमवार सुबह साढ़े 10 बजे अचानक हरे व भीगे वृक्षों के जरिए उतरा हाईवोल्ट करंट विद्यालय भवन में फैल गया. सभी छात्रों ने कमरे के बाहर चप्पल उतारकर टाटपट्टी व बोरे पर बैठे थे. शरीर में झनझनाहट महसूस होने पर विद्यालय में भगदड़ मच गई.

बच्चे उठते ही करंट का झटका खाकर जमीन पर गिर जाते थे. शिक्षिकाएं कुछ समझ नहीं पा रही थी. करंट का झटका लगने से अधिकांश छात्र कुछ ही देर में बेहोश हो गए. सहायक अध्यापिका रिचा सिंह, शैलजा व शिक्षामित्र अमिता वर्मा ने शोच मचाया.

अध्यापिकाओं ने चप्पल पहन रखी थी इसलिए करंट का असर नहीं हुआ. रिचा ने बताया कि पावर हाउस को फोन किया गया लेकिन रिसीव नहीं हुआ. करीब आधे घंटे बाद बात हुई तक जाकर बिजली कटी. शोर सुनकर दौड़े अभिभावकों ने बच्चों को विद्यालय भवन से बाहर निकाला. घटनास्थल के लिए पुलिस व जिला शिक्षा अधिकारी रवाना हुए हैं.