बिहार के बाद अब यूपी में आकाशीय बिजली का कहर, 33 लोगों की मौत

इससे पहले 24 और 25 जून को आकाशीय बिजली गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई थी.

लखनऊ: यूपी में प्राकृतिक आपदा ने 33 लोगों की जान ले ली. सूबे में आकाशीय बिजली गिरने से 33 लोगों की मौत हो गई है. आकाशीय बिजली गिरने से कानपुर में 7, झांसी में 5, हमीरपुर में 3, फतहेपुर में 7, रायबरेली में 2, चित्रकूट में 1 और जालौन में 4 व्यक्ति की मौत हो गई.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने संबंधित जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रत्येक मृतक के परिजनों को 4 लाख रुपए की राहत राशि प्रदान करें. घायलों के इलाज की उचित व्यवस्था कराने के भी निर्देश दिए गए हैं.

इससे पहले भी आकाशीय बिजली गिरने से लोगों की मौत हो चुकी है. इससे पहले 24 और 25 जून को आकाशीय बिजली गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई थी. देश में किसी भी प्राकृतिक आपदा से ज्यादा मौतें बिजली गिरने से होती हैं. 2010 से लेकर 2018 तक 22,027 लोगों की मौत बिजली गिरने से हुई है. यानी हर साल औसत 2447 लोगों की जान बिजली गिरने से जा रही है.

क्लाइमेट रीजिलिएंट ऑब्जर्विंग सिस्टन प्रमोशन काउंसिल (CROPC) के चेयरमैन कर्नल संजय श्रीवास्तव ने बताया कि 2018 में ही 3000 से ज्यादा मौत बिजली गिरने से हुई है. पिछले तीन साल में ही बिजली गिरने से होने वाली मौतों की संख्या में 1000 का इजाफा हुआ है.