Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’
Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’

मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बड़ा बयान दिया.
Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’

लखनऊ: मुलायम सिंह यादव का कुनबा अब हैपी एंडिंग की ओर जाता दिख रहा है. जिस तरह बॉलीवुड फिल्मों में क्‍लाइमेक्‍स आते-आते सबकुछ ठीक हो जाता है, ठीक उसी तरह सैफई में भी नई स्क्रिप्‍ट लिखे जाने की खबर आ रही है.

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बड़ा बयान दिया. ऐसा लगा मानो बसपा वाली बुआ मायावती के साथ 2019 लोकसभा चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद अखिलेश यादव को एहसास हो गया कि अपने आखिर अपने ही होते हैं.

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में अखिलेश यादव से सवाल किया गया था चाचा शिवपाल यादव के बारे में. वही चाचा जो कुछ साल पहले तक मीडिया के सामने इमोश्‍नल होकर बता रहे थे कि कैसे उन्‍होंने भतीजे अखिलेश को बेटे से बढ़कर प्‍यार दिया.

बचपन से लेकर जवानी तक और मुलायम के बेटे से लेकर यूपी का सीएम बनने तक कैसे अखिलेश के साथ चाचा हमेशा खड़े रहे हैं, लेकिन पार्टी की कमान को लेकर चाचा और भतीजा के बीच अदावत हो गई और भतीजा ने पार्टी की कमान अपने हाथों में ले ली. मजबूर चाचा को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनानी पड़ी, लेकिन अब रिश्‍तों में बर्फ पिघलती दिख रही है.

पहले यूपी विधानसभा चुनाव 2017 और बाद में 2019 लोकसभा चुनाव में सपा की बुरी हार के बाद अखिलेश यादव को समझ आ गया है कि बुआ के साथ जाने का फैसला गलत हो गया. अब अखिलेश को चाचा ही ठीक लग रहे हैं.

चलिए, अब सस्‍पेंस को खत्‍म करते हैं और बताते हैं कि अखिलेश ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में चाचा शिवपाल के बारे में आखिर कहा क्‍या?

”हमारे यादव परिवार में परिवारवाद नहीं है, बल्कि लोकतंत्र है. उन्‍होंने कहा कि जो अपनी विचारधारा से चलना चाहे वो वैसे ही चले. जो आना चाहे हम उसे अपनी पार्टी में आंख बंद करके शामिल कर लेंगे.’

रिश्‍तों को पटरी पर लाने की कोशिश वाला अखिलेश का यह बयान आया है, चाचा शिवपाल सिंह यादव की भावुक अपील के बाद. उन्‍होंने मैनपुरी में कहा, ‘मेरी तरफ से परिवार में अभी भी सुलह की पूरी गुंजाइश है, लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी परिवार को एक नहीं होने दे रहे हैं.”

मतलब चाचा और भतीजा दोनों का रुख अब नरम पड़ता दिखाई दे रहा है. देखना रोचक होगा कि मुलायम कुनबे में आखिर कब तक सुलह होती है.

Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’
Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’

Related Posts

Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’
Akhilesh Yadav, मुलायम कुनबे में ‘हैप्‍पी एंडिंग’ स्क्रिप्‍ट की तैयारी, बुआ ने छोड़ा तो अखिलेश को आई चाचा की ‘याद’